Army

जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सेना के साथ मुठभेड़ में 2 आतंकी ढेर, मुठभेड़ जारी

भारतीय सेना

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले में सुरक्षाबलों के साथ रातभर चले एनकाउंटर में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी मार गिराए गए। इस दौरान एक सैन्यकर्मी भी घायल हो गया। मुठभेड़ के दौरान आतंकियों को बचाने के लिए हिंसक हुई भीड़ व पुलिस के बीच हुई झड़पों में एक फोटोग्राफर समेत 04 लोग घायल हो गए।





सेना के एक ऑफिसर के मुताबिक सुरक्षाबलों ने शोपियां के वनीपुरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना के बाद घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन शुरू किया। उन्होंने कहा कि तलाशी अभियान के दौरान आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। ऑफिसर ने कहा कि अब तक 02 आतंकी मारे गए हैं और ऑपरेशन जारी है।

जैश के आतंकियों को शोपियां के बटमुरन गांव में देखे जाने की खबर मिलते ही राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल के सेना की 44 राष्ट्रीय रायफल व सीआरपीएफ की 14वीं वाहिनी के जवानों के साथ विशेष अभियान चलाया। सुरक्षाबलों को सूचना मिली कि गांव में पाकिस्तानी आतंकियों के साथ एक स्थानीय आतंकी भी छिपा हुआ है।

कहा जा रहा है कि ये आतंकी मोहम्मद याकूब के घर में छिपे थे जो कि सरकारी कर्मचारी हैं। जवानों ने आतंकियों की घेराबंदी शुरू की तो आतंकी समर्थक नारेबाजी करते हुए घरों से बाहर निकल आए। स्थानीय मस्जिदों से भी ऐलान होने लगे और थोड़ी देर में आतंकी समर्थकों ने सुरक्षाबलों पर पथराव करते हुए घेराबंदी तोड़कर आतंकियों को भगाने का प्रयास किया, लेकिन सुरक्षाबलों ने पथराव की परवाह किए बगैर घेराबंदी जारी रखी लेकिन समर्थक आतंकियों को भगाने में जुटे थे।

इसी दौरान आतंकवादियों ने घेराबंदी तोड़ने के लिए जवानों पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी, जिसमें एक जवान घायल हो गया, पर अन्य जवानों ने तुरंत जवाबी कार्रवाई करते हुए आतंकियों के फरार होने के मंसूबे को नाकाम कर दिया। पुलिस ने पथराव कर रही आतंकी समर्थक भीड़ को खदेड़ने के लिए लाठियों के साथ आंसू गैस का भी प्रयोग किया। इसके साथ ही बटमुरन में एक तरफ सुरक्षाबल आतंकियों की फायरिंग का जवाब दे रहे थे, वहीं दूसरी ओर पुलिस और भीड़ में हिंसक झड़पें चल रही थीं।

रात साढ़े नौ बजे आतंकी ठिकाना बने मकान में एक जोरदार धमाका हुआ और वहां आग लग गई। आग की लपटों से बचने के लिए आतंकी गोलियां बरसाते हुए बाहर निकलने लगे तो जवानों की गोलियों के निशाना बने।

 

Comments

Most Popular

To Top