Army

200 पुरुषों को पछाड़कर ऑफिसर्स ट्रेनिंग में हरियाणा की बेटियों को मिला यह सम्मान

नई दिल्ली। हरियाणा की प्रीति चौधरी और वृत्ति शर्मा ने चेन्नई में ऑफिसर ट्रेनिंग अकादमी में शीर्ष स्थान हासिल किये हैं। OTA यानी ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी के इतिहास में ऐसा पहली बार है जब दो महिला कैडेट्स ने सर्वश्रेष्ठ सम्मान प्राप्त किया हो।





दस मार्च को OTA में हुई पासिंग आउट परेड में लेफ्टिनेंट प्रीति को ‘स्वार्ड ऑफ ऑनर’ तथा दूसरे स्थान पर रहीं वृत्ति चौधरी को सिल्वर मैडल मिला है। दोनों ने यह सम्मान 200 जेंटलमेन कैडेट्स को पछाड़कर प्राप्त किया है। अकादमी के 55 साल के इतिहास में यह तीसरा मौका है, जब किसी महिला कैडेट् को ‘स्वार्ड ऑफ ऑनर’ दिया गया हो। वर्ष 2010 में पहली बार दिव्या अजीत कुमार को तथा 2015 में एम अंजना को यह सम्मान दिया गया था।

पानीपत के बिझौली गांव की रहने वाली प्रीति के मुताबिक उनके पिता भी सेना में कैप्टन रहे हैं और वह भी सेना में जाकर देश की सेवा करना चाहती थीं। उन्होंने SSB की परीक्षा पास की दूसरी तरफ रोहतक की वृत्ति शर्मा को मिस OTA भी चुना गया है। एक अखबार को दिए अपने बयान में उन्होंने कहा कि वर्ष 2015 में उन्होंने जब विंग कमांडर पूजा को अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति ओबामा को एस्कॉर्ट करते देखा तो उनका नजरिया बदला और उन्होंने सेना में जाने का मन बनाया। तब वह कुरुक्षेत्र से इंजीनियरिंग कर रही थीं। उन्हें जापान में नौकरी भी मिल गई, लेकिन उनके मन में सेना में भर्ती होने का ही ख्याल रहा और वह जापान से परीक्षा देने घर आई और उनका सेना में भर्ती होने का सपना पूरा हो गया।

शहीदों की पत्नियों ने भी पूरी की ट्रेनिंग

OTA से पासिंग आउट परेड में शामिल होने वाले कैडेट्स में शहीदों की पत्नियां भी शामिल हुईं। इनमें अरुणाचल में शहीद नीरज कुमार पांडे की पत्नी सुष्मिता पांडे और जम्मू कश्मीर में शहीद मेजर अमित देशवाल की पत्नी नीता देशवाल ने भी अपना प्रशिक्षण पूरा किया। OTA से पास होनेवाले ये सभी अफसर अब सेना में शामिल होकर देश की सेवा करेंगे।

Comments

Most Popular

To Top