DEFENCE

मुलाकात से खुश ट्रंप ने कहा- जल्द ही परमाणु निरस्त्रीकरण की प्रक्रिया पर काम शुरू हो जाएगा

ट्रंप और किम जोंग उन

सिंगापुर। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया नेता किम जोंग उन ऐतिहासिक शिखर वार्ता के लिए मिले। दोनों देशों के नेताओं के बीच शिखर वार्ता कितनी सफल रही, ये तो भविष्य बताएगा। 1950-53 में हुए कोरियाई युद्ध के बाद से अब तक अमेरिका और उत्तर कोरिया के नेता कभी नहीं मिले और न ही फोन पर बात की है। लेकिन सिंगापुर में  जिस तरह पुराना मनमुटाव दूर कर ट्रंप और किम मुस्कुराकर एक-दूसरे से गर्मजोशी से मिले, उसने उम्मीदें बढ़ा दी हैं।





हालांकि बातचीत के बाद ट्रंप भी काफी उत्साहित दिखे और कहा कि मुलाकात बहुत अच्छी रही। वहीं किम भी ट्रंप से मिलकर काफी खुश दिखे। ऐसे में आशा यही की जा रही है कि परमाणु युद्ध की धमकी देने वाले दोनों देशों के बीच अब सब कुछ ठीक है। बता दें कि दोनों नेताओं के बीच दो दौर की मुलाकात हुई। ट्रंप और किम सेंटोसा द्वीप के कैपेला रिजॉर्ट में वार्ता के लिए रविवार को ही सिंगापुर पहुंच गए थे। इस बैठक के सिंगापुर की सरकार ने कड़ी सुरक्षा के इंतजाम कर रखे हैं।

संवाददाता सम्मेलन में जब ट्रंप से पूछा गया कि क्या वह और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन से भविष्य में फिर मिलेंगे, तो अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि हम फिर से मिलेंगे और हम कई बार मिलेंगे।

ट्रंप से जब पूछा गया कि क्या वह किम जोंग में व्हाइट हाउस आने का न्योता देंगे तो उन्होंने कहा हां, जरूर।

परमाणु निरस्त्रीकरण पर हुई चर्चा

मीटिंग खत्म होने के बाद ट्रंप ने कहा कि जल्द ही परमाणु निरस्त्रीकरण की प्रक्रिया पर काम प्रारंभ हो जाएगा। एक तरफ ट्रंप ने जहां किम से मिलने पर खुशी जाहिर की तो वहीं किम ने भी इस ऐतिहासिक मुलाकात को सराहते हुए बीते कल को भूलने का वादा किया। हालांकि, समझौतों पर साइन के बाद भी दोनों नेताओं ने यह साफ नहीं किया कि आखिर अमेरिका और कोरिया के बीच किस बात को लेकर सहमति बनी है।

Comments

Most Popular

To Top