Army

थलसेना के जवानों और अफसरों के लिए खुशखबरी

HDFC करेगी मदद
भारतीय थलसेना (प्रतीकात्मक)

नई दिल्ली। थलसेना के लाखों जवानों और अफसरों के लिये एक खुशखबरी है। भारतीय थलसेना और एचडीएफसी बैंक के बीच नई दिल्ली में तीन अप्रैल को एक सहमति के ज्ञापन पर हस्ताक्षर हुआ जिससे लाखों सैनिकों और अफसरों को भारी लाभ मिलेगा। डिफेंस सैलरी पैकेज को लेकर हुए इस समझौते की बदौलत सैन्य कर्मियों को तीस लाख रुपये का निशुल्क निजी दुर्घटना मृत्यु बीमा लाभ और निशुल्क स्थायी अपंगता बीमा लाभ मिलेगा। ऐसे सैनिकों के बच्चों को चार साल तक के लिये उनकी शिक्षा पर सालाना एक लाख रुपये तक की मदद दी जाएगी। इन सैनिकों के आश्रितों द्वारा लिये गए कार लोन और निजी लोन पर सौ प्रतिशत तक प्रोसेसिंग फीस भी माफ कर दी जाएगी।





सैलरी पैकेज को लेकर एचडीएफसी बैंक के बीच पहली बार समझौता 2011 में हुआ था जिसे 13 मार्च, 2015 को फिर बहाल किया गया। थलसेना के प्रवक्ता के मुताबिक मौजूदा सहमति का ज्ञापन सेवारत सैनिकों, पेंशनरों और पारिवारिक सदस्यों की जरूरतों के मुताबिक तैयार किया गया है।

इस समझौते पर दस्तखत के लिये आयोजित समारोह की अध्यक्षता थलसेना के महानिदेशक ( एमपी एंड पीएस ) लेफ्टिनेंट जनरल एस के सैनी और एचडीएफसी बैंक की आला अधिकारी स्मिता गुप्ता ने की।

वर्तमान में भारतीय थलसेना ने डिफेंस सैलरी पैकेज के लिये निजी और सार्वजनिक क्षेत्र के 11 बैंकों से समझौते किये हैं। थलसेना को उम्मीद है कि इस समझौते से भारी संख्या में सेवारत और रिटायर्ड सैनिकों को लाभ पहुंचेगा। एचडीएफसी बैंक इन सैनिकों को आधुनिक बैंकिंग सेवाएं भी मुहैया कराएगा।

Comments

Most Popular

To Top