DEFENCE

देश में बढ़ रही है सैनिक स्कूलों की मांगः रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे

रक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष भामरे
सुभाष भामरे, रक्षा राज्य मंत्री (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। अखिल भारतीय सैनिक स्कूल (AISS) के प्राचार्यों का सम्मेलन गुरुवार को हरियाणा के करनाल जिले में सैनिक स्कूल कुंजपुरा में प्रारंभ हुआ। सैनिक स्कूल के प्राचार्यों के 48वें सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए रक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष भामरे ने प्राचार्यों की नेतृत्व क्षमता तथा अच्छी संख्या में कैडेटों को प्रतिष्ठत राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में भेजने पर उनकी सराहना की।





डॉ. भामरे ने कहा कि सैनिक स्कूल जनसाधारण के बच्चों के लिए गुणवत्ता सम्पन्न पब्लिक स्कूल शिक्षा का द्वार खोल रहे हैं, राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के सहायक संस्थान के रूप में सेवा दे रहे हैं और सशस्त्र बलों के अधिकारी संवर्ग में क्षेत्रीय असंतुलन को दूर कर रहे हैं। उन्होंने इन तीनों कसौटियों पर स्कूलों के अच्छे प्रदर्शन पर संतोष व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि यह सम्मेलन नीति संबंधी विषयों तथा देश में सैनिक स्कूलों के कामकाज की समीक्षा पर फोकस करेगा।

उन्होंने कहा कि देश में सैनिक स्कूलों की मांग बढ़ रही है और सरकार की योजना नये स्कूल स्थापित करने की है। उन्होंने बताया कि चालू वित्त वर्ष में दो नये सैनिक स्कूल झुन्झुनु (राजस्थान) तथा पूर्व सियांग (अरूणाचल प्रदेश) में स्थापित किये जा रहे हैं। उन्होंने कैडेटों को आधुनिक शिक्षा प्रदान करने और उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में हो रहे परिवर्तनों के अनुकूल बनाने की आवश्यकता पर बल दिया।

रक्षा राज्य मंत्री ने सैनिक स्कूलों में लड़कियों के नामांकन की चर्चा करते हुए बताया कि सरकार ने सैनिक स्कूलों में लड़कियों को प्रवेश देने का क्रांतिकारी निर्णय लिया है और लड़कियों को सशक्त बनाने की दिशा में ऐतिहासिक कदम उठाया है। डॉ. भामरे ने सभी सैनिक स्कूलों में आवश्यक संरचना विकसित करके इस नीति को शीघ्र लागू करने पर बल दिया।

रक्षा राज्य मंत्री डॉ भामरे ने हाल में संपंन्न बोर्ड ऑफ गर्वनर्स की बैठक में उठाये गये अनेक महत्वपूर्ण कदमों की चर्चा करते हुए कहा कि उन्होंने प्रत्येक वर्ष बोर्ड ऑफ गर्वनर्स की बैठक सुनिश्चित करने और स्कूलों तथा उनके कामकाज से संबंधित महत्वपूर्ण विषयों पर सभी हितधारकों द्वारा विशेषकर राज्य सरकारों द्वारा विचार विमर्श करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि इससे राज्य और स्कूलों के बीच घनिष्ठ सहयोग होगा।

रक्षा राज्य मंत्री ने आश्वासन दिया कि सरकार सैनिक स्कूलों के कर्मियों के लिए सातवें केन्द्रीय वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू करने पर गंभीरता से विचार कर रही है। रक्षा राज्य मंत्री ने हिमाचल प्रदेश के सुजानपुरा तीरा के सैनिक स्कूल के प्राचार्य को प्रतिष्ठित रक्षा मंत्री ट्रॉफी प्रदान की। सैनिक स्कूलों ने इस वर्ष राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के 140वें पाठ्यक्रम के लिए 105 कैडेट भेजे हैं।

Comments

Most Popular

To Top