DEFENCE

अमेरिकी विदेश मंत्री पोम्पियो 25 जून को आएंगे भारत, सामरिक साझेदारी और मजबूत होगी

यूएस विदेश मंत्री पोम्पियो

नई दिल्ली। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो के 25 से 27 जून तक के भारत दौरे की आधिकारिक घोषणा यहां विदेश मंत्रालय ने की। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने इस दौरे के बारे में कहा कि  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दोबारा प्रधानमंत्री बनने के बाद अमेरिका से यह पहली सर्वोच्च स्तर की भारत यात्रा है। उन्होंने कहा कि इस दौरे से भारत अमेरिका सामरिक साझेदारी और मजबूत होगी।





माइक पोम्पियो के भारत दौरे को विशेष अहमियत देते हुए यहां विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि  विभिन्न मुद्दों के बावजूद भारत और अमेरिका के रिश्तों की दिशा सकारात्मक चल रही है और दोनों देशों के बीच आपसी व्यापार का स्तर 150 अरब डॉलर तक पहुंच गया है।

सवालों के जवाब में प्रवक्ता ने कहा कि माइक पोम्पियो की विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ आपसी रिश्तों के विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से बातचीत होगी। इसके अलावा वह देश की विभिन्न हस्तियों से भी मिलेंगे। हालांकि प्रवक्ता ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से उनकी मुलाकात का जिक्र नहीं किया लेकिन यहां सूत्रों ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी से माइक पोम्पियो की मुलाकात काफी अहम होगी।

रूस से भारत द्वारा एस-400 मिसाइल सौदे को रद्द करने की अमेरिकी सलाह के बारे में पूछे जाने पर प्रवक्ता ने इसका सीधा जवाब टालते हुए कहा कि ऐसे मामले रक्षा मंत्रालय देखता है। गौरतलब है कि अमेरिका ने भारत से कहा है कि रूस से एस-400 मिसाइल सौदा रद्द कर दे और बदले में अमेरिकी एंटी मिसाइल प्रणालियां खरीदे। लेकिन भारत ने अमेरिकी अधिकारियों से बातचीत में साफ किया है कि रूस के साथ यह सौदा सम्पन्न हो चुका है और इस पर पुनर्विचार नहीं किया जा सकता।

प्रवक्ता ने बताया कि  अमेरिकी प्रशासन द्वारा भारतीयों को एच-1-बी वीजा में  भारी कटौती की रिपोर्टें आधिकारिक हवाले से नहीं हैं इसलिये वह इस पर टिप्पणी नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि अमेरिकी अधिकारियों ने इस बारे में सार्वजनिक तौर पर कुछ नहीं कहा है।  उन्होंने कहा कि इस मसले पर अमेरिकी अधिकारियों से बातचीत जारी है।

चीनी दूरसंचार कम्पनी ह्वावेई को भारत में 5-जी सेवाएं देने पर अमेरिकी एतराज के बारे में प्रवक्ता ने कहा कि इस बारे में कोई फी फैसला व्यावसायिक और सुरक्षा हितों को ध्यान में रख कर ही किया जाएगा।

 प्रवक्ता ने कहा कि विदेश मंत्री माइक पोम्पियो का भारत दौरा भारत अमेरिका के बीच सामरिक साझेदारी को और मजबूत करने का मौका प्रदान करेगा।  इस दौरे से दोनों देशों के बीच आपसी, क्षेत्रीय और वैश्विक मसलों पर उच्च स्तरीय सलाहमशविरा जारी रहेगा।

Comments

Most Popular

To Top