DEFENCE

US ने भारत को 22 गार्जियन ड्रोन की बिक्री को दी मंजूरी

गार्जियन ड्रोन

वॉशिंगटन। अमेरिका ने भारत को मानवरहित 22 गार्जियन ड्रोन की बिक्री को मंजूरी दे दी है। यह सौदा दो से तीन अरब डॉलर यानी करीब 130 से 194 अरब रुपये का होगा। इस ड्रोन का विनिर्माण जनरल अटॉमिक्स डिपार्टमेंट कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वॉशिंगटन यात्रा से पहले इस सौदे को द्विपक्षीय संबंधों खासतौर से रक्षा की दृष्टि से पासा पलटने वाला (Game Changer) माना जा रहा है।





इस यात्रा के दौरान अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के साथ मोदी की पहली बैठक 26 जून को होगी। सूत्रों ने कहा कि इस फैसले के बारे में विदेश मंत्रालय ने भारत सरकार और मैन्युफैक्चरर को अवगत करा दिया है। सूत्र ने बताया, ‘यह इस बात का संकेत है कि ओबामा प्रशासन के मुकाबले ट्रम्प प्रशासन भारत के साथ अपने संबंध को लेकर ज्यादा रिजल्ट ऑरियंटेड है।’

विदेश मंत्रालय और व्हाइट हाउस ने इस सम्बन्ध में तत्काल कोई प्रतिक्रया नहीं दी है। आधिकारिक घोषणा जल्द किए जाने की सम्भावना है।

  • मोदी के दौरे को लेकर अमेरिकी उत्सुक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के बीच अगले सप्ताह होने वाली मुलाकात से पहले ट्रम्प प्रशासन भारत के साथ संबंधों को मजबूत बनाने को लेकर आशान्वित है और उनके दौरे का उत्सुकता से इंतजार कर रहा है। अमेरिकी विदेश विभाग की प्रवक्ता हीथर नॉर्ट ने संवाददाताओं से कहा, “हम अमेरिका और भारत के बीच संबंधों को मजबूत बनाने को लेकर आशान्वित हैं। हमारे बीच परस्पर सहयोग के कई क्षेत्र हैं जिनमें आतंकवाद से मुकाबला भी शामिल है। दोनों देशों के लोगों के बीच संबंध मजबूत हैं इसलिए हम इस दौरे को लेकर उत्सुक हैं।”

पिछले साल नवंबर में डोनाल्ड ट्रम्प के अमेरिका के राष्ट्रपति निर्वाचित होने के बाद दोनों नेताओं ने फोन पर बात की थी। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत के बाद भी डोनाल्ड ट्रम्प ने पीएम मोदी को फोन कर बधाई दी थी। पूर्ववर्ती ओबामा प्रशासन के दौरान मोदी की बराक ओबामा से रिकार्ड आठ बार मुलाकात हुई थी। मोदी ने वाशिंगटन का तीन बार दौरा किया था, जबकि साल 2015 में ओबामा की ऐतिहासिक भारत यात्रा हुई थी, जिसमें वह गणतंत्र दिवस समारोह के मुख्य अतिथि थे।

Comments

Most Popular

To Top