DEFENCE

सेना के रिटायर अफसरों-जवानों को टोल टैक्स में छूट नहीं

सेना के अधिकारियों और जवानों को अब ऑफ ड्यूटी और निजी वाहन में होने पर टोल टैक्स में छूट नहीं मिलेगी। यह लाभ सिर्फ सरकारी गाड़ियों में ही मिल सकेगा।

सेना के अधिकारियों और जवानों को अब ऑफ ड्यूटी और निजी वाहन में होने पर टोल टैक्स में छूट नहीं मिलेगी। यह लाभ सिर्फ सरकारी गाड़ियों में ही मिल सकेगा। चंडीगढ़ आर्म्ड फोर्सेज ट्रिब्यूनल ने मिनिस्ट्री ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट और हाईवे के 17 जून 2014 को जारी स्पष्टीकरण पर रोक हटाते हुए टोल वसूली का रास्ता साफ कर दिया है। साथ ही इन आदेशों के बाद अब रिटायर अधिकारी और जवान भी टोल में छूट के हकदार नहीं होंगे।





आर्मी के एक अधिकारी ने आर्म्ड फोर्सेज ट्रिब्यूनल में याचिका दाखिल करते हुए कहा था कि इंडियन टोल एक्ट 1901 के तहत भारतीय सेना और वायु सेना के अधिकारियों और जवानों को ऑन ड्यूटी व ऑफ ड्यूटी टोल में छूट दी गई थी।

भारत सरकार ने जब पब्लिक-प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत टोल को प्राइवेट हाथों में सौंपा तो कंपनियों ने छूट को ऑफ ड्यूटी के दौरान मानने से इनकार कर दिया। इसी बीच मिनिस्ट्री ऑफ रोड ट्रांसपोर्ट और हाईवे ने स्पष्टीकरण दिया कि सेना व वायु सेना के अधिकारियों और जवानों को टोल में छूट तभी मिलने का प्रावधान है जब वे ड्यूटी पर हों। यदि वे प्राइवेट गाड़ी में हैं तो ड्यूटी पर होने के बावजूद उन्हें टोल देना होगा। रिटायर अधिकारियों और जवानों को टोल में छूट का लाभ नहीं दिया गया है

Comments

Most Popular

To Top