DEFENCE

बंकरों के जरिए पाक के संघर्ष विराम उल्लंघन पर निशाना

सीमा पर बंकर

नई दिल्ली। भारत-पाकिस्तान सीमा पर सरकार बंकरों की संख्याओं में इजाफा करेगी। इसके लिए सामुदायिक बंकर्स बनाने की नीति में बदलाव किया जाएगा। पड़ोसी देश पाकिस्तान सीमा पार से लगातार गोलीबारी से बाज नहीं आ रहा जिससे आम नागरिकों के लिए भी ऐसी घटनाएं हमेशा परेशानी का सबब बनती है। इस साल सितंबर तक पाकिस्तान की तरफ से 600 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन हो चुका है। पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी में 16 जवान शहीद हुए और आठ आम नागरिकों की जानें गईं।





गृह मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक सरकार सीमावर्ती गांवों में बंकरों की संख्या बढ़ाने की सोच रही है। इस मामले में सुरक्षा संबंधी जरूरी राय मांगी गई है।

आवश्यकता के अनुसार सामुदायिक बंकरों की जगह निजी बंकरों की संख्या बढ़ाई जा सकती है। जिन गांवों को अकसर निशाना बनाया जाता है वहां हर घर के सामने भी बंकर का निर्माण किया जा सकता है। सामुदायिक बंकरों की संख्या भी बढ़ाकर उन्हें अधिक मजबूत और लोगों की सुविधा के मुताबिक ढाला जाएगा। विशेष सचिव आंतरिक सुरक्षा रीना मित्रा की अध्यक्षता में बनाई गई कमेटी को इन सभी पहलुओं पर गौर करने का काम सौंपा गया है। होम मिनिस्ट्री के एक अधिकारी ने कहा कि लगभग 100 गांवों को लक्ष्य करके बदलाव किए जाएंगे।

Comments

Most Popular

To Top