DEFENCE

सुपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल का सफल परीक्षण, हवा में ही नष्ट होगी दुश्मन की मिसाइल

ओडिशा। सुपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण कर भारत विश्व का ऐसा चौथा देश बन गया है जो मिसाइल से मिसाइल को हवा में ही नष्ट कर सकता है।गुरुवार को ओडिशा के समुद्रतट के निकट स्थित व्हीलर आईलैंड पर ये टेस्ट किया गया। यह आइलैंड अब अब्दुल कलाम आईलैंड कहा जाता है।





भारत ने स्वदेशी रूप से विकसित एडवांस्ड एयर डिफेंस (AAD) सुपरसोनिक इंटरसेप्टर मिसाइल कम ऊंचाई में किसी भी आने वाली बैलिस्टिक मिसाइल को नष्ट करने में सक्षम है।

चांदीपुर स्थित एकीकृत परीक्षण केंद्र आईटीआर के प्रक्षेपण परिसर तीन से टारगेट मिसाइल- पृथ्वी मिसाइल दागी गई। इस वर्ष किया गया यह तीसरा सुपरसोनिक इंटरसेप्टर परीक्षण है, जिसमें मिसाइल ने सामने से आ रही बैलिस्टिक मिसाइल को धरती के वातावरण के 30 किलोमीटर की ऊंचाई के दायरे में सफलतापूर्वक निशाना बनाकर उसे नष्ट किया। परीक्षण के बाद रक्षा सूत्रों ने कहा कि यह एक सीधी, सटीक और शानदार सफलता थी। इससे पहले 11 फरवरी और एक मार्च 2017 को दो परीक्षण किए जा चुके हैं। सूत्रों के मुताबिक आज का परीक्षण उड़ान के दौरान इंटरसेप्टर के विभिन्न मानकों के सत्यापन के लिए किया गया और सभी सफल रहे।

7.5 मीटर लंबी एकल चरण ठोस रॉकेट प्रणोदन निर्देशित यह मिसाइल हाई-टेक कंप्यूटर और इलेक्ट्रो-मेकैनिकल एक्टीवेटर वाली दिशा निर्देशन प्रणाली से लैस है। इस एडवांस मिसाइल का अपना खुद का मोबाइल लांचर है और यह दुश्मन मिसाइल को निशाना बनाने के लिए सुरक्षित डेटा लिंक, एडवांस राडार और अन्य तकनीकी एवं प्रौद्योगिकी विशेषताओं से लैस है।

Comments

Most Popular

To Top