DEFENCE

स्पेशल रिपोर्ट: सीमा मसले का हल हिंसा और दुश्मनी से नहीं- सुषमा

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज
फाइल फोटो

नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि हिंसा और दुश्मनी से मुक्त माहौल में यदि सही भावना से बात की जाए तो अनसुलझे सीमा मसलों का हल दिवपक्षीय बातचीत से ही निकाला जा सकता है।





यहां चौथे रायसीना डायलॉग को सम्बोधित करते हुए विदेश मंत्री ने कहा कि अपनी प्रादेशिक अखंडता औऱ सम्प्रभुता को बनाए रखने के लिये हमारी प्रतिबद्धता में कोई कमी नहीं आएगी। भारत और पाकिस्तान तथा भारत औऱ चीन के साथ चल रहे सीमा और प्रादेशिक विवाद के मद्देनजर भारतीय विदेश मंत्री ने यह अहम बयान दिया है। उन्होंने चीन और पाकिस्तान को इशारों में कहा है कि सीमा मसले का हल बातचीत से ही निकाला जा सकता है। गौरतलब है कि पिछले साल भूटान के डोकलाम के इलाके में सीमा मसले को लेकर भारत और चीन के बीच गम्भीर विवाद पैदा हो गया था।

रायसीना डायलॉग में 90 देशों के दो हजार से अधिक प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं। यह डायलॉग विदेश मंत्रालय द्वारा विचार संस्था आब्जर्वर रिसर्च फाउंडेशन के सहयोग से आयोजित किया गया है। विदेश मंत्री ने अपने सम्बोधन में चीन को चुभने वाली एक औऱ बात कही कि भारत नियम आधारित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था का पक्षधर है। उल्लेखनीय है कि चीन पर यह आरोप लगाया जाता है कि वह दक्षिण चीन सागर में अंतरराष्ट्रीय समुद्री कानूनों की अवहेलना कर कृत्रिम द्वीपों का निर्माण कर अपने भौगोलिक क्षेत्र का विस्तार करना चाहता है।

विदेश मंत्री ने कहा कि एक जनतांत्रिक अंतरराष्ट्रीय नियम आधारित व्यवस्था पर भारत की विदेश नीति आधारित है। भारत की विदेश नीति भगवान बुद्ध के ज्ञान व विवेक और महात्मा गांधी के शांति व करुणा के संदेशों पर आधारित है। भारत की शक्ति और वैश्विक शांति औऱ स्थिरता के लिये संबल है और सभी क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रगति का प्रेरक है।

उन्होंने कहा कि भारत की विदेश नीति का आधार सबका साथ और सबका विकास रहा है जिसके तहत भारत विश्व समुदाय से तालमेल बनाता है। हमने अपने पड़ोसी इलाके पर काफी अधिक संसाधन और ध्यान लगाए हैं। हिंद महासागर के देशों के साथ सामंजस्य बनाने के लिये ही प्रधानमंत्री मोदी ने सागर की अवधारणा को लागू किया है। हमारी एक्ट ईस्ट औऱ थिंक वेस्ट कार्यक्रमों के जरिये हमारे सामरिक और आर्थिक पड़ोस में बेहतर तालमेल बनाया जा सका है।

Comments

Most Popular

To Top