DEFENCE

स्पेशल रिपोर्ट: थेल्स और कल्याणी बनाएंगी अगली पीढ़ी की रक्षा प्रणालियां

रडार
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली। हथियार प्रणालियों का विकास और उत्पादन करने वाली ऑस्ट्रेलिया की थेल्स कम्पनी ने भारत के कल्याणी ग्रुप के साथ हाथ मिलाया है। दोनों मिलकर भारत में रक्षा और कानून पालन एजेंसियों के लिये अगली पीढ़ी की हथियार प्रणालियों के डिजाइन, विकास और निर्माण पर समझौता किया है।





कल्याणी स्ट्रैटजिक सिस्टम्स लि. (KSSL) और थेल्स के बीच साझेदारी से थेल्स के रक्षा प्रणालियों के सौ साल से अधिक अनुभवों का फायदा  मिलेगा। यह समझौता ऑस्ट्रेलियाई नौसैनिक पोत एचएमएएस कैनबरा पर सम्पन्न हुआ जो इन दिनों विशाखापतनम में भारतीय नौसेना के साथ साझा अभ्यास के लिये आया है। यह समझौता कल्याणी ग्रुप के वाइस प्रेजिडेंट एमकेके अय्यर  और थेल्स इंडिया के कंट्री डायरेक्टर इमैनुएयल राकफेल के बीच सम्पन्न हुआ।

कल्याणी  ग्रुप के  प्रेजिडेंट  और सीईओ राजिंदर सिंह भाटिया ने कहा कि  हम सैन्य प्रणाली उत्पादन के क्षेत्र में प्रवेश कर काफी उत्साहित हैं। यह गठजोड़ थेल्स की अडवांस टेकनॉलोजी विशेषज्ञता और कल्याणी ग्रुप की निर्माण क्षमता में तालमेल बना कर नई प्रणालियों का विकास करेगा। इसके तहत नई पीढ़ी की एफ- 90 एसाल्ट राइफलों का विकास भी किया जाएगा। थेल्स के वाइस प्रेजिडेंट केविन वाल ने कहा कि इस साझेदारी से भारत को लेकर प्रतिबद्धता उजागर होती है।

कल्याणी  ग्रुप 2.5 अरब डालर की उच्च तकनीक वाली इंजीनियरिंग  व निर्माण क्षमता की कम्पनी है। यह कम्पनी डिफेंस और एरोस्पेश, स्वचालित उपकरणों, औद्योगिक और शहरी ढांचागत क्षेत्र में माहिर है। यह कम्पनी भारतीय रक्षा उद्योग को  कलपुर्जों औऱ प्रणालियों की सप्लाई करती है।

Comments

Most Popular

To Top