DEFENCE

खास रिपोर्ट: पाक ने नहीं सौंपी करतारपुर के यात्रियों की सूची

करतारपुर गलियारे को लेकर भारत-पाक की बैठक
फाइल फोटो

नई दिल्ली।  पाकिस्तान में करतारपुर गुरुद्वारा  के लिये गलियारे का उद्घाटन 09 नवम्बर को होना है औऱ इसके लिये 550 यात्रियों की सूची भारतीय अधिकारियों ने पाकिस्तान को सौंपी है लेकिन पाकिस्तानी पक्ष ने 06 नवम्बर की शाम तक इस सूची को मंजूर कर नहीं भेजा है।  इससे  करतारपुर जाने वालो में अनिश्चय का माहौल है।





यहां विदेश मंत्रालय के सूत्रों ने करतारपुर गुरुद्वरा के लिये बनाए गए गलियारे के उद्घाटन की तैयारियों की जानकारी देते हुए बताया कि इस सूची में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से लेकर कई केन्द्रीय मंत्री, पंजाब के मुख्य मंत्री और कई सांसदों के अलावा कई प्रतिष्ठित हस्तियां शामिल हैं।

सूत्रों ने कहा कि जिन यात्रियों को करतारपुर गुरुद्वारा दर्शन के लिये जाना है उनके नाम सूची में रहने की जानकारी वक्त रहते होनी चाहिये लेकिन पाकिस्तान इसमें क्यों देरी कर रहा है यहां अधिकारियों को समझ नहीं आ रहा ।

करतारपुर गलियारे का 09 नवम्बर को  उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी औऱ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अपने अपने इलाके से करेंगे।

भारतीय पक्ष इस बात को लेकर सचेत हैं कि पाकिस्तान इस गलियारे का दुरुपयोग भारत में सिखों की भावनाएं भड़काने के लिये करेगा लेकिन यहां विदेश मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि भारत एक बड़े परिदृश्य को देख रहा है और वास्तव में भारत ने ही 20 साल पहले करतारपुर गलियारे का प्रस्ताव पाकिस्तानी पक्ष से रखा था। इसलिये यह गलियारा भारत की पहल पर ही बनाया जा रहा है।

कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की ओर से मिले निमंत्रण के लिये अनुमति  मांगे जाने के बारे में यहां सूत्रों ने कहा कि इसके लिये किसी राजनीतिक मंजूरी की जरूरत नहीं है। वह एक आम यात्री की तरह पाकिस्तान जा सकते हैं।

Comments

Most Popular

To Top