DEFENCE

खास रिपोर्ट: कश्मीर पर अमेरिकी बीचबचाव नहीं- भारत

ऱाष्ट्रपति ट्रंप
फाइल फोटो

नई दिल्ली।  जम्मू-कश्मीर के मसले पर भारत-पाकिस्तान के बीच अमेरिका बीचबचाव को आतुर है लेकिन भारत अमेरिका की  दाल नहीं गलने दे रहा। शुक्रवार को जहां वाशिंगटन में  राष्ट्रपति ट्रम्प ने भारत-पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता की पेशकश दुहराई वहीं भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने इसे सिरे से खारिज करने का एक ट्वीट जारी कर दिया।





बैंकाक मे  पूर्व एशिया शिखर के विदेश मंत्रियों की बैठक के दौरान अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो से बातचीत के बाद विदेश मंत्री जयशंकर ने ट्वीट कर कहा कि भारत पाकिस्तान से कश्मीर के मसले पर जरूरत पड़ी तो बात करेगा लेकिन यह बातचीत केवल दिवपक्षीय ही होगी।

गौरतलब है कि वाशिंगटन में गत 24 जुलाई को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान से मुलाकात के बाद राष्ट्रपति ट्रम्प ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  के हवाले से कहा था कि अमेरिका भारत और पाकिस्तान के बीच मध्यस्थता करे।

भारत द्वारा इस पेशकश को ठुकरा दिये जाने के बाद राष्ट्रपति ट्रम्प ने फिर मध्यस्थता की पेशकश दुहराई।

लेकिन भारत ने पहले  की तरह फिर कहा है कि यह बातचीत केवल शिमला समझौता औऱ लाहौर घोषणापत्र के  दायरे में ही हो सकती है।

Comments

Most Popular

To Top