DEFENCE

Special Report: भारत ने कहा- मसूद पर प्रतिबंध की वजह बना पुलवामा आतंकी हमला

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार

नई दिल्ली। पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र की प्रतिबंधित सूची में शामिल करने के फैसले के पीछे पुलवामा में आतंकवादी हमले की भी अहम भूमिका रही। यहां विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने इस बारे में मीडिया रिपोर्टों और पाकिस्तान के इन बयानों के बारे में पूछे जाने पर कहा कि मसूद अजहर के खिलाफ प्रतिबंध की कार्रवाई के पीछे मुख्य वजह पुलवामा आतंकी हमला ही था।





गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र की अधिसूचना में मसूद अजहर की भारतीय इलाकों में आतंकवादी गतिविधियों का कोई जिक्र नहीं है। पाकिस्तानी अधिकारियों ने इसे पाक की राजनयिक जीत की संज्ञा दी है। इस बारे में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान अपनी जनता को यह तो बता नहीं सकता कि संयुक्त राष्ट्र ने उसके एक नागरिक को आतंकवादी घोषित किया है इसलिये वह संयुक्त राष्ट्र के फैसले को दूसरा रंग दे रहा है। पाकिस्तान की यह कोशिश मसूद अजहर पर मिली फटकार से अपनी जनता का ध्यान हटाने की है।

यह पूछे जाने पर कि क्या प्रतिबंध लगाने वाली संयुक्त राष्ट्र की अधिसूचना जारी करने के लिये भारत ने चीन से किसी तरह का समझौता किया प्रवक्ता ने कहा कि हम  इस तरह के समझौते नहीं करते। यह पूछे जाने पर कि पाकिस्तान के नागरिक हाफिज सईद को भी संयुक्त राष्ट्र ने आतंकवादी घोषित किया है लेकिन वह खुलेआम अपनी गतिविधियां चला रहा है। प्रवक्ता ने कहा कि  पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र द्वारा बताए गए कदमों का पालन करने के लिये बाध्य है। उसे तीन अहम कदम उठाने होंगे। इसकी सारी सम्पत्ति जब्त करनी होगी, उसकी आवाजाही पर रोक लगानी होगी और उसे किसी तरह के हथियार आदि की सप्लाई पर पाबंदी लगानी होगी।

संयुक्त राष्ट्र की 1267 प्रतिबंध समिति को इस आशय के निर्देश हैं कि वह यह सुनिश्चित करे कि मसूद अजहर के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र  द्वारा घोषित सभी कदमों का पाकिस्तान पालन करे।

Comments

Most Popular

To Top