DEFENCE

अब ‘मेड इन इंडिया’ होगी प्रधान मंत्री आवास की सुरक्षा

नई दिल्ली। देश के प्रधान मंत्री की सुरक्षा के अब और भी कड़े इंतजाम किये जा रहे हैं  इस कड़ी में प्रधानमंत्री आवास की सुरक्षा पुख्ता करने के लिए सरकार नई पेरिमीटर घुसपैठ जांच प्रणाली (पी.आई.डी.एस.) अपग्रेड करने पर विचार कर रही है। इस प्रणाली से दिल्ली के लोक कल्याण मार्ग स्थित पीएम आवास पर नजर रखी जाएगी। इसके अलावा सबसे खास बात यह रहेगी कि पीएम की सुरक्षा प्रणाली को ‘मेड इन इण्डिया’ के तहत विकसित किया जाएगा





CCTV कैमरों से भी की जाएगी निगरानी

पी.आई.डी.एस. के तहत सुरक्षा के इंतजाम करने की सारी जिम्मेदारी स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप यानी SPG को दी गई है। इस डिफेंस सिस्टम में नए सेंसर लगे होंगे जो परिसर में 2.8 किमी के दायरे में किसी भी तरह की घुसपैठ के प्रयास का पता लगाने में मदद करेंगे।

SPG अधिकारियों को दी जाएगी ट्रेनिंग

SPG की तरफ से जारी किए गए दस्तावेजों में कहा गया है कि पी.आई.डी.एस. के सभी सिस्टम भारत में बने होने चाहिए। इसके अलावा इन सिस्टम्स को चलाने के लिए 10 SPG अधिकारियों को खास ट्रेनिंग भी दी जाएगी। जिसे भी पी.आई.डी.एस. सिस्टम को बनाने का और सेट करने का काम SPG जिसे भी सौंपेगा उसे तीन माह का वक्त दिया जाएगा।

ऐसे काम करेगा यह सिस्टम

सिस्टम से एक अदृश्य इन्फ्रा-रेड बीम निकलती है और किसी भी तरह का उल्लंघन होने पर कंट्रोल रुम में एक अलार्म बज जाता है। इस सिस्टम में ऐसे सेंसर्स लगे होंगे जो 2.8 किलोमीटर पेरिमीटर वाले कॉम्प्लेक्स में किसी भी तरह की घुसपैठ का पता लगा लेंगे।आपको बता दें कि लोक कल्याण मार्ग और तीन मूर्ति मार्ग राजधानी दिल्ली के बहुत ही महत्वपूर्ण इलाके हैं, जिनकी सुरक्षा में किसी भी तरह की ढील नहीं दी जाती है।

Comments

Most Popular

To Top