DEFENCE

कश्मीर में 28 हजार अतिरिक्त जवानों की और तैनाती, घाटी में कयास हुए और तेज

सुरक्षाबलों का कारवां
सौजन्य- गूगल

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में अर्ध सैनिक बलों के 28 हजार जवान और अधिकारी तैनात किए जा रहे हैं। घाटी में इन जवानों के पहुंचने का सिलसिला पिछले 04 दिनों से जारी है। इन्हें राज्य के अलग-अलग इलाकों में तैनात किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि अमरनाथ यात्रा मार्ग पर कुछ लंगर भी बंद कर दिए गए हैं।





मीडिया खबरों के मुताबिक घाटी में कई महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा में तैनात केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) को मुक्त कर पूरी तरह आतंकरोधी अभियानों और कानून-व्यवस्था बनाए रखने की जिम्मेदारी दी जा रही है। इन प्रतिष्ठानों की सुरक्षा की जिम्मेदारी सीमा सुरक्षा बल (BSF), सशस्त्र सीमा बल (SSB) को दी गई है।

सूत्रों के मुताबिक श्रीनगर समेत पूरी घाटी के संवेदनशील इलाकों में सीआरपीएफ को तैनात किया जा रहा है। घाटी के अन्य प्रमुख शहरों और कस्बों में आने-जाने के सभी रास्तों पर केंद्रीय अर्ध-सैनिक बल तैनात किए गए हैं। इस बीच अमरनाथ यात्रा को 04 अगस्त तक के लिए स्थागित कर दिया गया है। इन बातों को लेकर जम्मू-कश्मीर में अफवाहों का बाजार फिर गर्म हो गया है।

थलसेना अध्यक्ष बिपिन रावत बृहस्तपतिवार को सुरक्षा-व्यवस्था की समीक्षा के लिए श्रीनगर पहुंच गए हैं। सेना के प्रवक्ता के मुताबिक आर्मी चीफ अगले दो दिनों तक कश्मीर में ही रहेंगे।

Comments

Most Popular

To Top