DEFENCE

मिसाइल मैन डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को याद किया, DRDO ने शुरू की वेबसाइट

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम की जयंती समारोह

नई दिल्ली। कृतज्ञ देश ने यहां 15 अक्टूबर को भारत के मिसाइल मैन डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का 87 वां जन्म दिवस मनाया। इस मौके पर यहां रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) द्वारा आयोजित एक समारोह में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि डॉ. कलाम न केवल एक अच्छे वैज्ञानिक थे बल्कि एक अच्छे प्रशासक भी थे जो अपने टीम सदस्यों के बीच प्रतिभावान लोगों की पहचान कर सकते थे। इसीलिये भारत के मिसाइल मैन एक महान टीम लीडर बने।





रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण

इस मौके पर रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने कहा कि डॉ. कलाम एक मजबूत देश में विश्वास करते थे। वह वैज्ञानिक तौर पर बेहतर देश भारत को देखना चाहते थे जो कि लोगों को अपने मिशन पूरा करने के संकल्प को पूरा करवा सके। डॉ. कलाम को उद्ध़ृत करते हुए उन्होंने कहा कि यदि आप सूर्य की तरह चमकना चाहते हैं तो सूर्य की तरह जलना सीखो। ऐसे ही वाक्यों से वह लोगों को प्रेरित किया करते थे। इस मौके पर रक्षा मंत्री सीतारमण ने डीआरडीओ की एक वेबसाइट (https://drdo.gov.in/drdo/kalam/kalam.html)  लांच की। यह वेबसाइट कलाम की दृष्टि – सपना देखने का साहस करो –  पर आधारित है। इसमें युवा प्रतिभाओं को आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस , साइबर सुरक्षा , रोबोटिक्स , आटोनोमस सिस्टम्स आदि पर चर्चा की जाएगी और इसके जरिये छात्रों और स्टार्ट अप समूहों के बीच खुली प्रतिस्पदर्धा को बढावा मिलेग।

Comments

Most Popular

To Top