DEFENCE

बिगड़े हालात पर J&K के गवर्नर को सख्त निर्देश

जम्मू-कश्मीर

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के बिगड़े हालात से केंद्र सरकार बेहद नाराज है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को राज्यपाल एनएन वोहरा से मुलाक़ात में स्पष्ट नाराजगी जताते हुए कहा कि जितनी जल्दी सम्भव हो स्थिति को काबू में लाया जाए और जो लोग भी इसके पीछे हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। जानकारी के अनुसार राज्यपाल ने  हालात पर जल्द काबू पाने और कड़ी कार्रवाई करने का आश्वासन दिया।





इससे पहले राज्यपाल वोहरा ने राज्य में कानून-व्यवस्था के मौजूदा हालात और राज्य की ताजा स्थिति से अवगत कराया। गृहमंत्री से मुलाकात के दौरान राज्यपाल एनएन वोहरा ने आश्वासन दिया कि राज्य में स्थिति को जल्द से जल्द नियंत्रित कर लिया जाएगा और इसके बारे में गृह मंत्रालय को भी सूचित किया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व सोमवार को राज्यपाल वोहरा ने केंद्रीय गृह सचिव राजीव महर्षि से भी मुलाकात की थी और उनसे राज्य के हालातों पर चर्चा की थी।

जवानों की शहादत बेकार नहीं जाएगी : जेटली

अरुण जेटली

रक्षा मंत्री अरुण जेटली (फाइल फोटो)

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर के पुंछ में सेना के दो जवानों के शवों के साथ किए गए दुर्व्यवहार की भारत ने कड़े शब्दों में निंदा करते हुए इसे बर्बर करार दिया है।

हमले की कड़ी निंदा करते हुए रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि पाकिस्तान ने पुंछ के कृष्णाघाटी में हमारे दो जवानों के शवों के साथ बर्बरता की है जो कि अमानवीय घटना है। ऐसी घटनाएं तो युद्ध के समय भी नहीं की जाती। भारत सरकार इसकी कड़ी निंदा करती है।

जेटली ने कहा, “हमारे दो सैनिकों के शवों को मारने और विकृत करने का कार्य सबसे अधिक निन्दनीय और बर्बर है। बलिदान बेकार नहीं जाएगा।” उन्होंने कहा, “हमारा सशस्त्र बलों में पूरी तरह से विश्वास है जो उचित प्रतिक्रिया देंगे।”
पाक बॉर्डर एक्शन टीम (बीएटी) ने एलओसी पार कर पुंछ में भारतीय इलाके में 250 मीटर अंदर तक घुसकर आर्मी-बीएसएफ की पेट्रोल पार्टी पर हमला कर दिया। इसके बाद हमले में शहीद हमारे दो जवानों के सिर काट लिए।

पाकिस्तान ने ऐसी किसी घटना से इनकार किया है। घटना के बाद इंडियन आर्मी ने कहा कि वह इसका माकूल जवाब देगी। इस बीच, आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत श्रीनगर पहुंच गए हैं।

Comments

Most Popular

To Top