DEFENCE

अफगानिस्तान में नहीं भेजेंगे भारतीय सैनिक : निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली। भारतीय दौरे पर राजधानी पहुंचे अमेरिका के रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस ने मंगवलार को रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ पड़ोस के हालात और सीमा पार से आतंकवाद के खतरे को लेकर बातचीत की। जिसके बाद मैटिस ने कहा है कि आतंकवादियों के लिए कोई सुरक्षित ठिकाने नहीं हो सकते। वहीं, अफगानिस्तान के विकास में सांझेदार भारत ने वहां अपनी सेना की तैनाती से साफ इनकार कर दिया है।





मंगलवार को मैटिस से मुलाक़ात के बाद भारतीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, हमने स्पष्ट कर दिया है कि भारतीय सैनिक अफगानिस्तान की जमीन पर कदम नहीं रखेंगे। उन्होंने बताया कि इस बैठक में अमेरिकी रक्षा मंत्री के साथ रक्षा सहयोग बढ़ाने, आतंकवाद से निपटने तथा अफगानिस्तान जैसे मुद्दों पर बातचीत हुई।

मैटिस ने इस बारे में अपना पक्ष रखते हुए अफगनिस्तान में भारत के योगदान की सराहना की है।  उन्होंने कहा, ‘अफगानिस्तान में लोकतंत्र, स्थिरता और सुरक्षा में भारत के अतिरिक्त प्रयासों का स्वागत है।’ भारत युद्ध ग्रस्त अफगानिस्तान में विकास से जुड़े कार्यों में सबसे ज्यादा योगदान देने वाला देश है।  अफगानिस्तान में संसद भवन के निर्माण के अलावा भारत यहां सड़क और बांध निर्माण जैसी परियोजनाओं में मदद कर रहा है।

गौरतलब है कि पिछले माह नई अफगान नीति की घोषणा करते हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत से अफगानिस्तान में अपनी भूमिका बढ़ाने की अपील की थी। इसे अपरोक्ष रूप से अफगानिस्तान में भारत की सैन्य भागीदारी की अपील के तौर पर देखा जा रहा था।

Comments

Most Popular

To Top