DEFENCE

पाकिस्तान को भारत की कड़ी नसीहत- आतंकियों के खिलाफ ‘नया एक्शन’ ले ‘नया पाकिस्तान’

MEA प्रवक्ता रवीश कुमार

नई दिल्ली। भारत और पाकिस्तान के बढ़े तनाव के बीच भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने मीडिया को संबोधित किया और एक बार फिर से पाकिस्तान को कड़ा संदेश दिया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने शनिवार को कहा कि पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ F- 16 का इस्तेमाल किया था, लेकिन अब झूठ बोल रहा है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अभी भी आतंकियों के खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई को अंजाम नहीं दे रहा। बालाकोट मामले पर हम बेहद आश्वस्त हैं कि हम सफल रहे हैं। पाकिस्तान ने पत्रकारों को वहां जाने से रोका है। वह पूरे मामले को छिपाने का प्रयास कर रहा है।





प्रवक्ता ने एक बार फिर पाकिस्तान को नसीहत देते हुए कहा कि पाकिस्तान अगर दावा करता है कि उसके पास भारत के दूसरे लड़ाकू विमान को गिराने का वीडियो है तो वह इसे दिखाता क्यों नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान ‘नया पाकिस्तान’ का दावा करता है तो उसे आतंकी संगठनों के खिलाफ ‘नया एक्शन’ दिखाना चाहिए।

भारत सरकार ने कहा कि पाक में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के शिविर पर हमारी असैन्य कार्रवाई सफल रही। हमारे सैन्य प्रतिष्ठानों को टारगेट करने की पाक की असफल कोशिश के दौरान हमने केवल एक विमान खोया। पुलवामा आतंकी हमले के बाद से अंतरराष्ट्रीय समुदाय भारत के साथ खड़ा है।

संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान जो दावा कर रहा है कि हमारे दो विमान नष्ट हुए हैं वह पूरी तरह झूठ है। पाक के खिलाफ बोलते हुए विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि जब भी पाकिस्तान की धरती से संचालित होने वाले आतंकी समूहों पर लगाम लगाने की बात आती है तो इस्लामाबाद ने भारत और अंतरराष्ट्रीय समुदाय की चिंताओं को दूर करने के लिए गंभीर इरादे नहीं दिखाए हैं।

उन्होने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि पाक अब भी पुलवामा हमले को जैश-ए-मोहम्मद द्वारा अंजाम दिए जाने की बात को नकार रहा है जबकि स्वयं इस आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने कहा कि जैश ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, कुछ भ्रम है। क्या पाक जैश-ए-मोहम्मद का बचाव करने में लगा है?

पाक स्थित आतंकी संगठन बिना किसी रोकथाम के अपनी गतिविधियों को अंजाम दे रहे हैं। पाक को उसकी जमीन पर सक्रिय आतंकी संगठनों के खिलाफ विश्वनीय और निरंतर कार्रवाई करनी चाहिए।

Comments

Most Popular

To Top