DEFENCE

भारत की इस सैटेलाइट से रखी जा सकेगी पाक और चीन पर पैनी नजर

ध्रुवीय यान (PSLV C- 45)
प्रतीकात्मक फोटो

नई दिल्ली। भारत की सुरक्षा अब ऐसी होगी कि सरहद पार से परिंदा भी पर नहीं मार सके। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) इसी महीने की 22 तारीख को भारत की दूसरी आंख अंतरिक्ष में स्थापित करने जा रहा है। इसरो श्रीहरिकोटा में रडार इमेजिंग सैटेलाइट (रिसैट-2बीआर-1) का प्रक्षेपण करेगा।





मीडिया खबरों के मुताबिक इसरो से जुड़े सूत्र का कहना है कि हालांकि यह नई सैटेलाइट बाहर से दिखने में पुरानी सैटेलाइट जैसी ही है लेकिन इसकी तकनीक काफी अलग है।

इस सैटेलाइट द्वारा किसी भी मौसम में धरती पर एक मीटर की दूरी पर स्थित दो वस्तुओं की सटीक पहचान की सकेगी। इसी श्रृंखला के तहत पहले भेजे गए सैटेलाइट के इनपुट से ही भारत ने साल 2016 में सर्जिक स्ट्राइक की थी और जैश-ए-मोहम्मद की कैंपों को तबाह किय़ा था।

खास बात यह है कि जमीन और समंदर की हर गतिविधि को पैनी आंख से देखने की क्षमता इस सैटेलाइट में है। इससे भारतीय सुरक्षा को सीमा पर निगरानी रखने में मदद मिलेगी। सैटेलाइट से पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकी शिविरों की गतिविधियों पर नजर रखी जा सकेगी।

 

Comments

Most Popular

To Top