DEFENCE

भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को नहीं दे सकते शहीद का औपचारिक दर्जाः पंजाब सरकार

भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव
भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव (फाइल फोटो)

चंडीगढ़। शहीद-ए-आजम भगत सिंह को औपचारिक रूप से शहीद का दर्जा देने से पंजाब सरकार ने इनकार कर दिया है। मीडिया खबरों के मुताबिक पंजाब सरकार ने संविधान के अनुच्छे 18 के तहत एबोलिशन ऑफ टाइटल्स नियम के हवाले से कहा है कि सरकार फौजियों के अलावा किसी को कोई टाइटल नहीं दे सकती। राज्य सरकार के पास ऐसा कोई अधिकार नहीं है।





गौरतलब है कि पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के वरिष्ठ एडवोकेट हरिचंद अरोड़ा ने चिट्ठी लिख सरकार से जानना चाहा था कि क्या भगत सिंह, सुखदेव औऱ राजगुरु को शहीद का दर्जा दिया गया है। उन्होंने सरकार से शहीदों की आधिकारिक लिस्ट भी मांगी थी। राज्य सरकार ने जवाब में डिक्शनरी ऑफ मार्टियर्सः इंडियाज फ्रीडम स्ट्रगल किताब की चर्चा करते हुए कहा इसमें भारत के शहीदों का वर्णन है। यह किताब इंडियन काउंसिल ऑफ हिस्टोरिकल रिसर्च ने प्रकाशित की है। सरकार भी शहीदों के सम्मान में वक्त-वक्त पर राज्यस्तरीय कार्यक्रम आयोजित करती है। पंजाब में शहीदों के सम्मान में स्मारकों का निर्माण भी किया गया है। शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए सरकारी छुट्टी का प्रावधान भी किया गया है।

अपने जवाब में सरकार ने दिल्ली हाईकोर्ट के एक फैसले का जिक्र भी किया है जिसमें कोर्ट ने उस याचिका को खारिज कर दिया था जिसमें भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को शहीद का दर्जा दिए जाने की मांग की गई थी।

 

Comments

Most Popular

To Top