DEFENCE

चीन सीमा पर सेना होगी और चुस्त-दुरुस्त, जल्द तैनात होंगे हॉवित्जर और चिनूक

हॉवित्जर और चिनूक हेलिकॉप्टर

नई दिल्ली। भारत और चीन सीमा पर बढ़ते खतरे को देखते हुए भारतीय सेना अपने एडवास्ड हथियार प्रणालियों को सीमा पर तैनात करने की योजना बना रही है। अक्टूबर माह में अरुणाचल प्रदेश में चीन सीमा के निकट होने वाले युद्धक अभ्यास में भारतीय सेना M- 777 अल्ट्रा हॉवित्जर और वायुसेना का चिनूक हेलिकॉप्टरों को शामिल करेगी।





सूत्रों के मुताबिक हिम विजय नामक यह युद्धक अभ्यास खास कर अरुणाचल प्रदेश में नव-निर्मित 17 माउंटेन स्ट्राइक कोर की युद्ध लड़ने की क्षमताओं का परीक्षण करेगा। इस युद्ध अभ्यास में भारतीय वायुसेना को भी शामिल किया गया है। वायुसेना मुख्य रूप से युद्ध के समय हवा से प्रदान की जाने वाली सहायता मुहैया कराएगी।

सेना के सीनियर अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि ‘हिम विजय’ युद्ध अभ्यास के दौरान 17 माउंटेन स्ट्राइक कोर को M-777 अल्ट्रा लाइट हॉवित्जर के साथ तैनात किया जाएगा। जिससे सेना दुश्मन के विरुद्ध तेज और निर्णायक प्रहार कर सके।

गौरतलब है कि इस युद्धाभ्यास में अमेरिकी हैवी-लिफ्ट हेलिकॉप्टर चिनूक का भी इस्तेमाल किया जाएगा। जिससे M 777 को ऊंचाई वाले इलाकों में एयरलिफ्ट करके जल्द तैनात करने की क्षमताओं का परीक्षण किया जा सके।

चीन सीमा पर मिल रही चुनौतियों को लेकर इस तोप की आवश्यकता काफी समय से महसूस की जा रही थी।

Comments

Most Popular

To Top