DEFENCE

बराक मिसाइलों सहित 860 करोड़ के रक्षा सौदों को मंजूरी

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री अरुण जेटली की अगुआई में रक्षा अधिग्रहण परिषद (डीएसी) ने सोमवार को नौसैनिक युद्धपोतों के लिए बराक मिसाइलों सहित कई अन्य प्रस्तावों को मंजूरी दे दी है। विभिन्न सौदों की कुल लागत  860 करोड़ रुपये है।





रक्षा मंत्रालय से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, डीएसी के अनुमोदित महत्वपूर्ण प्रस्तावों में नौसैनिक युद्धपोतों के लिए बराक मिसाइलों की खरीद, समुद्र में सुरंग रोधी उपकरणों की खरीद, समुद्र में तापमान का पता लगाने वाली प्रणाली (एक्सपेन्टेबल बाथरी थ्रॉमोग्राफ सिस्टम) की खरीद शामिल है।

डीएसी ने इस दौरान कई पुराने प्रस्तावों की समीक्षा की और प्रस्तावों की त्वरित प्रक्रिया के निर्देश दिए। पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के गोवा का मुख्यमंत्री बनने के बाद रक्षा मंत्री का अतिरिक्त प्रभार संभालने वाले जेटली ने पहली बार परिषद की बैठक की अध्यक्षता की।

बराक मिसाइल की खासियत:

  • यह जमीन से आसमान में 70 किलोमीटर तक किसी भी लक्ष्य को टारगेट कर सकती है।
  • इसमें अत्याधुनिक मल्टीमिशन रडार तथा कंट्रोल सिस्टम लगा होगा, जिससे यह सभी मौसमों में दिन या रात किसी भी समय निशानों को भेदने में बराबर सक्षम होगी।
  • यह एयरक्राफ्ट, हेलिकॉप्टरों और ड्रोन जैसे विभिन्न हवाई खतरों से रक्षा के लिए डिजाइन की गई है।
  • यह पहले से ही भारत में इस्तेमाल हो रही है। हालांकि इसमें जरूरत के मुताबिक कुछ जरूरी बदलाव भी किए जाएंगे।

Comments

Most Popular

To Top