DEFENCE

NSA अजीत डोवाल ने पीएम को दी चीन सीमा को लेकर हालात की जानकारी

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली। चीन के साथ सिक्किम में बॉर्डर पर जारी तनाव के बीच मंगलवार को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल ने पीएम मोदी से मिलकर बॉर्डर के हालात की जानकारी दी। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार ने पीएम मोदी ने संसद में मुलाकात की। वहीँ, विदेश सचिव चीन से तनाव के मुद्दे पर संसदीय कमेटी को ब्रीफ करेंगे।





चीन और भारत के बीच गतिरोध जारी

गौरतलब है कि पिछले एक महीने से भी ज्यादा समय से सिक्किम में डोकलाम बॉर्डर पर चीन और भारत की सेनाएं आमने-सामने हैं। मंगलवार को चीन ने तिब्बत में भारतीय बॉर्डर के पास युद्धाभ्यास भी किया था। इसके बाद चीन ने भारत को भूटान-चीन-भारत ट्राइजंक्शन से सेना वापस बुलाने को कहा और चेतावनी दी कि यदि सेना वापस नहीं बुलाई गई, तो युद्ध की स्थिति उत्पन्न हो सकती है। सिक्किम सेक्टर की स्थिति के दीर्घकालिक रूप लेने के बीच चीनी मीडिया ने चेतावनी देते हुए कहा कि चीन को भारत के साथ गतिरोध के लिए तैयार हो जाने की जरूरत है।

गौरतलब है कि डोकलाम में भारत ने चीन द्वारा किए जा रहे सड़क निर्माण पर चिंता जताई है। भारत को डर है कि इसके माध्यम से चीनी सेना पूर्वोत्तर राज्यों तक उसकी पहुंच को बंद कर सकती है। चीन की इस कार्रवाई के बाद पिछले एक महीने से दोनों देशों की सेनाओं के बीच गतिरोध जारी है।

नियंत्रण रेखा पर छिड़ सकता हैं ‘संघर्ष’

चीन ने बीजिंग स्थिति विदेशी राजदूतों को भी सीमा तनाव से अवगत कराते हुए कहा है कि चीन के संयम की सीमा अब खत्म हो रही है। चीन के मीडिया ने साथ ही यह चेतावनी भी दी है कि इस तरह के दूसरे संघर्षों से संपूर्ण वास्तविक नियंत्रण रेखा पर ‘भीषण संघर्ष’ छिड़ सकता है। सरकारी अखबार ‘ग्लोबल टाइम्स’ के छपे लेख में दावा किया गया है कि डोकलाम क्षेत्र के पास सड़क बनाने से चीनी सेना को रोकने की भारतीय कार्रवाई ‘‘चीन की सम्प्रभुता का गंभीर उल्लंघन है।’ यह सड़क भारत-चीन-भूटान की सम्मिलित सीमा के पास है।

Comments

Most Popular

To Top