BSF

CAPF जवान एक क्लिक पर सीधे जुड़ेंगे गृह मंत्री से

मोबाइल ऐप

नई दिल्ली। सीमा सुरक्षा बल (BSF) के जवान रहे तेज बहादुर यादव द्वारा अपनी समस्याओं को सोशल मीडिया के जरिए दुनिया के सामने लाने के चार महीने बाद केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने अनुशासन से बंधे अर्धसैनिक बल के जवानों के सुझावों, शिकायतों और सराहना के लिए आज मोबाइल ऐप लॉन्च किया। इस ऐप के माध्यम से जवान गृह मंत्रालय और गृह मंत्री से सीधे जुड़ जाएंगे। एक अन्य ऐप ‘BSF MY APP’ भी इस मौके पर लांच किया गया।





मोबाइल एप ‘BSF MY APP’ बीएसएफ कार्मिकों के लिए तैयार किया गया है। ये ऐप बीएसएफ की कल्याणकारी योजनाओं को दूरदराज बैठे जवानों तक पहुंचाएगा और उनको लाभान्वित करेगा। इस ऐप के जरिए जवानों को वेतन, जीपीएफ, छुट्टी और नियुक्ति जैसी महत्वपूर्ण जानकारी मिलेगी। कार्यक्रम की शुरुआत में ये जानकारियां बीएसएफ के महानिदेशक केके शर्मा ने दी।

इनके लिए है यह ऐप

मोबाइल ऐप

गृह मंत्रालय का मोबाइल ऐप लॉन्च

यह ऐप केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (CAPF) के जवानों के लिए है। CAPF में सीमा सुरक्षा बल (BSF), केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF), केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF), इंडो-तिब्बत बार्डर पुलिस (ITBP) और सशस्त्र सीमा बल (SSB) आते हैं।

करना क्या है

CAPF में काम करने वाले सैनिक की यदि शिकायत है, तो वह सीधे ऐप के माध्यम से लॉग इन कर सकता है और निदान के लिए यह गृह मंत्रालय के संज्ञान में आ जाएगा। अगर किसी वजह से इसमें विलंब होता है तो मामला गृह मंत्री को भी भेजा जा सकता है।

राजनाथ ने बताया अपना अनुभव

राजनाथ ने गुरुवार को इस अवसर पर कहा कि इसकी इच्छा मैंने हैदराबाद में महानिदेशक सम्मेलन में व्यक्त की थी कि देश के गृह मंत्री के नाते मैं हर जवान से सीधे जुड़ जाऊं। बहुत ही कम समय में इस ऐप का निर्माण अशोक शर्मा ने कर दिखाया। इसके लिए उनकी पूरी टीम बधाई की पात्र है। राजनाथ ने अर्धसैनिक बलों के अनुशासन की प्रशंसा करते हुए सैनिकों के अनुशासन को देश की आम जनता के लिए अनुकरणीय बताया। उन्होंने कहा मैंने कई बार जवानों की कॉन्फ्रेंस में देखा कि कई बार अधिकारियों के कहने पर अनुशासन के चलते जवान मुझसे कुछ नहीं पूछते हैं। यह उनका अनुशासन है। देश के अर्धसैनिक बलों के जवान विषम से विषम परिस्थितियों में भी अनुशासन के साथ देश की सुरक्षा में लगे हैं, यह बहुत बड़ी बात है।

राजनाथ ने कहा हर जवान की अपनी दिक्कत होती है। इसलिए हर जवान से जुड़ने के उद्देश्य से गृह मंत्रालय ने इस पर विचार किया था कि हर जवान बस एक क्लिक पर देश के गृह मंत्री से जुड़े और आज यह स्वप्न पूर्ण हुआ है। उन्होंने सम्बोधन के दौरान ‘भारत के वीर’ ऐप की भी प्रशंसा की।

Comments

Most Popular

To Top