Forces

भारतीय नौसेना को यह लड़ाकू विमान बेचने को तैयार ‘बोइंग’

नई दिल्ली। भारतीय नौसेना अपनी ताकत में लगातार इजाफा कर रही है और इसके लिए एक और लड़ाकू विमान अपने बेड़े में शामिल करना चाहती है। वहीं, विश्व की सबसे बड़ी हथियार कंपनी ‘बोइंग’ दक्षिण एशियाई देशों में अपना कारोबार बढ़ाना चाहती है। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि नौसेना को जल्द ही एक लड़ाकू विमान मिल सकता है।
दरअसल, बोईंग कंपनी अपने F/A-18 हॉर्नेट फाइटर जेट्स बेचने के लिए इंडियन नेवी से बात कर रही है। यदि बोईंग और नौसेना के बीच ये सौदा हो जाता है तो भारतीय नौसेना की ताकत में भी काफी इजाफा होगा।





ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार कंपनी के डिफेंस, स्पेस ऐंड सिक्यॉरिटी के वाइस प्रेजिडेंट जेन कनिंघम ने सिंगापुर एयरशो के दौरान कहा है कि अभी फाइटर जेट डील पर कई टेक्निकल इवैल्युएशन होने बाकी हैं। कंपनी भारत और दूसरे साउथ एशियन देशों में मल्टीरोल टैंकर KC-46 के लिए संभावनाएं भी तलाश रही है।’

गौरतलब है कि पिछले साल ही नौसेना ने अपने विमान वाहक पोत के लिए 57 बहुद्देश्यीय लड़ाकू विमानों के लिए प्रस्ताव आमंत्रित किए थे। इससे पहले बोइंग ने भारत को हॉर्नेट फाइटर जेट के लिए भारत में ही प्रॉडक्शन यूनिट लगाने का प्रस्ताव दिया था। केंद्र सरकार ने लड़ाकू विमानों और दूसरे सैनिक साजो-सामान पर 250 अरब डॉलर खर्च करने की योजना बनाई है। ‘मेक इन इंडिया’ के तहत सरकार कई विदेशी हथियार कंपनियों से करार कर विमानों का उत्पादन देश में ही करना चाहती है।

Comments

Most Popular

To Top