Army

जम्मू-कश्मीर में तैनात होंगे ‘ब्लैक कैट कमांडो’, निपटेंगे आतंकियों से

नई दिल्ली। हर चुनौती से निपटने में सक्षम ‘ब्लैक कैट कमांडो’ यानी ‘राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड’ (NSG) को जल्द ही आतंकवाद से लड़ने के लिए जम्मू-कश्मीर में तैनात किया जाएगा। ये विशेष सुरक्षा बल आतंकियों से मुठभेड़ और बंधकों को छुड़ाने के अभियानों में सुरक्षा बलों की मदद करेंगे। गृह मंत्रालय ब्लैक कैट कमांडो को कश्मीर घाटी में तैनात करने के प्रस्ताव पर काम कर रहा है।





NSG कमांडो को घाटी में तैनात करने के इस प्रस्ताव के अनुसार यह विशेष बल सेना, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और राज्य पुलिस बल के साथ मिलकर अति संवेदनशील इलाकों में सक्रिय अभियान में शामिल रहेंगे।

देश भर में हैं कुल 7,500 NSG कमांडो

दरअसल, घाटी में आतंकवादी गतिविधियों के दौरान स्थानीय नागरिकों को बचाने के प्रयास में सुरक्षा बलों को नुकसान उठाना पड़ रहा है। ‘ब्लैक कैट कमांडो’ की मदद मिलने पर इस तरह की घटनाओं पर नियंत्रण किया जा सकेगा। आम तौर पर पांच कमांडो की टीम घातक हथियारों से लैस होकर कार्रवाई करती है। इस टीम में सभी चुनौतियों से निपटने वाले सिद्धहस्त जवान होते हैं। देश में इस समय ब्लैक कैट कमांडो की संख्या 7,500 है।

मीडिया  खबरों के मुताबिक मंत्रालय के एक अधिकारी के अनुसार खासतौर पर प्रशिक्षित इन कमांडो की तैनाती का निर्णय आखिरी चरण में होने की पुष्टि की है। जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक एसपी वैद्य ने हाल ही में स्पष्ट किया था कि ब्लैक कैट कमांडो की घाटी में तैनाती करने की मांग को जल्द स्वीकृति मिलने की उम्मीद की जा रही है।

हालांकि इससे पहले भी आतंकी गतिविधियों को नियंत्रित करने के लिए NSG कमांडो को घाटी में तैनात किया जा चुका है। गौरतलब है कि इन कमांडो को ख़ास रूप से प्रशिक्षित किया जाता है यह विशेष बल बंधक बनाकर रखे गए लोगों को छुड़ाने और छिपे आतंकियों को धर दोबोचने में माहिर होते हैं।

Comments

Most Popular

To Top