Army

Special Report: भारतीय थलसेना का जल्द हिस्सा बनेंगी महिला सैनिक

भारतीय महिला सैनिक

नई दिल्ली। महिला सैनिकों के पहले दल को थलसेना जल्द ही अपना हिस्सा बनाने जा रही है। इसके लिये थलसेना में महिला सैनिकों की पहली टुकड़ी को ट्रेनिंग देने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।





थलसेना में मिलिट्री पुलिस के कर्नल कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल अश्विनी ने महिला सैनिक अफसर लेफ्टिनेंट कर्नल नंदनी का इंटरव्यू महिला सैनिकों की टुकडी के इंस्ट्रक्टर के तौर पर किया।

लेफ्टिनेंट जनरल अश्विनी ने कहा कि इंस्ट्रक्टरों का पहला सेट हमारे लिये काफी अहम हैं क्योंकि वे आगे की पीढ़ियों के लिये नींव डालने का काम करेंगे। गौरतलब है कि असम राइफल्स में महिला कांस्टेबलों के पहले बैच की ट्रेनिंग थलसेना की मेजर जूली ने दी थी। इनकी तरह और अधिक महिला इंस्ट्रक्टरों को थलसेना में देखा जाएगा।

देश भर के हजारों वॉलियंटरों में से 100 चुनी गईं इन महिला सैनिकों की ट्रेनिंग  बैंगलुरु में आगामी दिसम्बर से शुरू होगी। इनकी ट्रेनिंग की अवधि 61 सप्ताह की होगी। इन्हें पुरुष सैनिकों की तरह ट्रेनिंग दी जाएगी। इन्हें इस भावना से ट्रेनिंग दी जाएगी कि वे पहले सैनिक हैं और फिर पुरुष या महिला। हर साल 100 महिला सैनिकों की ट्रेनिंग तब तक दी जाएगी जब तक कि उनकी क्षमता 1,700 तक नहीं पहुंच जाती है।

Comments

Most Popular

To Top