Army

स्पेशल रिपोर्ट: जनरल रावत ने सीमांत इलाकों का दौरा किया, वायुसेना चौकस

सेना प्रमुख बिपिन रावत

नई दिल्ली।  जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा से लगे इलाकों का दौरा करने के बाद थलसेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने राजस्थान से लगी पाकिस्तानी सीमा के अग्रिम इलाकों का दौरा कर भारतीय थलसेना की ऑपरेशनल तैनाती की समीक्षा की। इसके साथ ही भारतीय वायुसेना ने कहा है कि सर्वोच्च स्तर की चौकसी चल रही है और सीमा पार से होने वाली किसी भी कार्रवाई से निबटने को पूरी तरह तैयार है।





वायुसेना ने पाकिस्तानी आसमान को सीमित तौर पर ही खोलने के पाकिस्तानी ऐलान को नोट किया है। यहां वायुसेना ने बताया कि पाकिस्तान ने अंतराष्ट्रीय नोटिस जारी कर ओमान, ईरान, अफगानिस्तान और चीन के लिये ही अपना आसमान खोलने की बात कही है जब कि भारतीय नभ सीमा से जुड़े 11 प्रवेश और निकासी हवाई मार्ग बंद रखे गए हैं।

यहां थलसेना के प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि जनरल रावत ने राजस्थान के बाड़मेर औऱ सूरतगढ़ सेक्टरों का दौरा किया। वहां भारतीय थलसेना के आला कमांडरों के साथ बैठक कर ऑपरेशनल तैनाती की समीक्षा की।  इस दौरान थलसेना प्रमुख को इस इलाके के सैन्य हालात की जानकारी दी गई  और इससे निबटने के लिये भारतीय सेना की जवाबी तैयारी से अवगत कराया।

इस दौरान जनरल रावत ने कहा कि भारतीय इलाके में अस्थिरता पैदा करने के पाकिस्तानी सेना के कुत्सित इरादों से निबटने के लिये भारतीय थलसेना की सक्षमता और जवाबी तैयारी पर उन्हें पूरा भरोसा है। भारतीय सेना के उच्च मनोबल की उन्होंने सराहना की। भारतीय सैनिकों को उन्होंने किसी भी हालात का मुकाबला करने के लिये वायुसेना  के साथ तालमेल से चौकसी बनाए रखने को उत्साहित किया।

पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकवादी हमले के बाद भारत ने गत 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट इलाके पर हवाई हमला किया था। इसके बाद भारत और पाकिस्तान के बीच सैन्य तनाव काफी बढ़ा। दोनों ओर से सीमांत इलाकों में नये सिरे से सैन्य तैनाती बढ़ाई गई।

अब भारतीय थलसेना प्रमुख का नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा के इलाकों का दौरा करना काफी अहम है।

Comments

Most Popular

To Top