Army

स्पेशल रिपोर्ट: भारत और उज्बेकिस्तान के बीच पहला साझा सैन्य अभ्यास

भारत और उज्बेकिस्तान की सेना

नई दिल्ली।  मध्य एशियाई देश उज्बेकिस्तान की सेना के साथ भारतीय थलसेना ने पहला संयुक्त फील्ड ट्रेनिंग युद्धाभ्यास  सम्पन्न किया। युद्धाभ्यास दुस्तलिक- 2019 दस दिनों तक चला।  यह अभ्यास उज्बेकिस्तान के चिरचिक ट्रेनिग  इलाके में आयोजित किया गया।





चार नवम्बर को शुरू हुए इस साझा अभ्यास में  मुख्य तौर पर प्रतिविद्रोही अभ्यास  और प्रति आतंकवादी अभ्यास पर जोर दिया गया।  इस दौरान दोनों देशों के थलसैनिकों ने आतंकवाद तत्वों से लड़ने के अपने अनुभव साझा किये।  इस दौरान दोनों सेनाओं ने अतिवादी तत्वों पर हावी होने की रणऩीति दिखाई। इस दौरान दोनों थलसेनाओं ने अपने देश की पारम्परिक प्रथाओं को भी इस्तेमाल में लाया।

इस अभ्यास के दौरान दोनों थलसेनाओं द्वारा उच्च स्तर का प्रदर्शन करने पर आला सैनिक अधिकारियों ने संतोष जाहिर किया। यहां थलसेना के प्रवक्ता ने बताया कि इस अभ्यास के दौरान दोनों थलसेनाओं के बीच जो आपसी सौहार्द दिखा  इससे एक दूसरे के सैन्य संगठनों औऱ प्रक्रियाओं को समझने का बेहतर मौका मिलेगा।

 गौरतलब है कि मध्य एशियाई देशों के साथ हाल के सालों में  सैन्य और राजनयिक रिश्ते गहरे हुए हैं। भारत की तरह उज्बेकिस्तान औऱ अऩ्य मध्य एशियाई देश जेहादी उग्रवाद से परेशान हैं।

Comments

Most Popular

To Top