Army

स्पेशल रिपोर्ट: पाकिस्तान को चेतावनी के बाद हमले थमे

भारतीय सेना

नई दिल्ली। भारतीय सेना की कड़ी चेतावनी के बाद पाकिस्तानी सेना ने जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर संयम बरता और हालात काबू में है। गौरतलब है कि पुलवामा  पर 14 फरवरी को आतंकवादी हमले के बाद जब भारतीय सेना ने 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट इलाके पर हवाई सर्जिकल हमला किया तो तिलमिलाए पाकिस्तान  ने अपनी सेना को नियंत्रण रेखा पर गोलीबारी तेज करने और भारतीय गांवों को तबाह करने के निर्देश जारी किये थे।





इसके बाद जम्मू-कश्मीर मे नियंत्रण रेखा के नजदीक बसे गांवों के लोग काफी परेशान हो गए और उऩ्हें गाव छोड़ने पड़े। इस तरह जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर भारी गोलीबारी से नागरिक इलाकों में जान माल को हो रहे नुकसान के बाद भारतीय सेना ने जब पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी कि दोबारा ऐसा किया तो इसके काफी बुरे नतीजे झेलने होंगे, पाकिस्तान की ओर से हमले थम गए हैं।

यहां भारतीय थलसेना के प्रवक्ता ने पाकिस्तानी सेना को दी गई चेतावनी के बारे में कहा कि जब से पाकिस्तानी सेना को चेताया गया है कि वह नागरिक इलाकों को निशाना नहीं बनाए, पाकिस्तानी सेना खामोश हो गई है और माहौल तुलनात्मक तौर पर शांत है। पिछले 24 घंटों में कृष्णाघाटी और सुंदरबनी इलाकों में पाकिस्तानी सेना ने हेवी कैलिबर के हथियारों, मोर्टार बमों और बड़ी तोपों  के जरिये गहन गोलाबारी की है जिसका भारतीय सेना ने माकूल जवाब दिया है। इसका भारतीय सेना ने बुधवार को प्रभावी जवाब दिया। प्रवक्ता ने कहा कि भारतीय इलाको में कोई हताहत नहीं हुआ है।

भारतीय सैन्य प्रवक्ता ने चेतावनी दी कि एक पेशेवर सेना की तरह हम नागरिक जान माल को कोई नुकसान नहीं होने देने को प्रतिबद्ध हैं। प्रवक्ता ने कहा कि नियंत्रण रेखा के पार भारतीय सेना ने जो भी कार्रवाई की है वह आतंकवादी ढांचे को नष्ट करने और आतंकवादी तत्वों के खिलाफ निर्देशित रही है। यह कार्रवाई नागरिक आबादी से दूर की गई ताकि गांव वालों को कोई नुकसान नहीं पहुंचे।

प्रवक्ता ने कहा कि नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हम कड़ी चौकसी बरते हुए हैं। पाकिस्तान की ओऱ से की गई किसी भी उकसावापूर्ण कार्रवाई का हम माकूल जवाब देंगे जिसका काफी बुरा खामियाजा पाकिस्तान को भुगतने होंगे।

Comments

Most Popular

To Top