Army

जवानों का सिर काटने के लिए खास चाकू-कैमरा लाई थी BAT

बैट-टीम-का-मारा-गया-आतंकी

श्रीनगर। एक मई को पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (BAT) ने कश्मीर के पुंछ में घुसपैठ की थी। इस दौरान 2 शहीदों के शव का सिर काट लिया गया था। जताया जा रहा है कि BAT के सदस्य घटना को अंजाम देने के लिए एक खास तरह का चाकू लाए थे। इस घटना को वे रिकॉर्ड कर सकें, इसके लिए उनके पास कैमरा था। ये कैमरा उनके सिर पर बंधा था। पुंछ में भारत की जवाबी कार्रवाई में एक बैट आतंकी को ढेर कर दिया गया था। शुक्रवार को पुंछ में एक बैट आतंकी की बॉडी बरामद हुई है। न्यूज एजेंसी की खबर के अनुसार, शुक्रवार को सेना ने पुंछ के गुलपुर सेक्टर में सर्च ऑपरेशन के दौरान एक बैट आतंकी की बॉडी बरामद की।





एक अफसर ने बताया कि 22 जून को बैट का एक घुसपैठिया मारा गया था। इसकी बॉडी को लोकल पुलिस को सौंप दिया गया है। इसके पास से आर्म्स, गोला-बारूद और जंग में इस्तेमाल होने वाला साजो-सामान मसलन एक खास तरह का चाकू, सिर पर बांधने वाला कैमरा, एक एके- 47 राइफल, 3 मैगजीन, 2 ग्रेनेड मिले थे। इसके अलावा एक बैग से आर्मी की यूनिफॉर्म भी मिली थी। इन सबसे पाकिस्तान आर्मी के बर्बर मंसूबों का पता चलता है।

अफसर ने ये भी बताया कि खास तरह के चाकू रखने का मकसद है कि वे हमारे जवानों का जल्द सिर कलम कर सकें। हालांकि हमारे जवान उनकी साजिश को नाकाम कर देते हैं।

सिर पर बांधे रहते हैं कैमरा

अफसर ने बताया कि BAT के आतंकी सिर पर बंधे बैंड में कैमरा लगाए रहते हैं ताकि वे अपने विरोधियों का गला काटते वक्त उसे रिकॉर्ड कर सकें। इस बात की जांच की जानी चाहिए कि क्या कैमरा सीमा पार पाकिस्तानी आर्मी से जुड़ा होता है और लाइव जानकारियां देता रहता है। फिलहाल हम कैमरे का डाटा और डिटेल का एनालिसिस करेंगे।

क्या था पूरा मामला ?

एक मई को LoC पर हुई फायरिंग, पाकिस्तान ने रॉकेट दागे। पाकिस्तान आर्मी की 647 मुजाहिद बटालियन ने सुबह 8 बजकर 30 मिनट पर पुंछ के कृष्णा घाटी सेक्टर में फायरिंग की। पाकिस्तान की ‘पिम्पल’ पोस्ट से भारत की ‘कृपाण’ पोस्ट को निशाना बनाया गया। मोर्टार और रॉकेट दागे गए। ऑटोमैटिक वेपंस से हैवी फायरिंग की गई।

घात लगाकर बैठी थी पाकिस्तान आर्मी की टुकड़ी

सूत्रों ने बताया कि कृष्णा घाटी में पाकिस्तान ने पहले रॉकेट और भारी हथियारों से हमला किया। भारत की तरफ से भी जवाबी कार्रवाई हुई। इस दौरान दो पोस्टों के बीच भारतीय जवानों की एक टुकड़ी एलओसी पर लगी तारों की फेंसिंग पार कर लैंडमाइंस की चैकिंग के लिए आगे बढ़ी। पाकिस्तान की BAT वहां पहले से घात लगाकर बैठी थी। उसकी फायरिंग में हमारे दो जवान शहीद हो गए। इसके बाद BAT ने शहीदों के शवों के साथ बर्बरता की। उनके सिर काट दिए गए।

न्यूज एजेंसी के अनुसार, सेना के एक सीनियर अफसर ने बताया, ‘यह सोचा समझा हमला था। पाकिस्तान आर्मी की BAT टीम एलओसी पार कर भारतीय सीमा में करीब 250 मीटर तक घुस आई थी। ये काफी देर से हमले को अंजाम देने का इंतजार कर रहे थे। सोमवार सुबह पाकिस्तान ने रॉकेट और मोर्टार से हमला किया। भारतीय पोस्ट पर तैनात जवानों को उलझाए रखा। इसके बाद उनका टारगेट 7-8 मेंबर वाली पेट्रोलिंग पार्टी थी, जो पोस्ट से बाहर चेकिंग के लिए आई थी।’

क्या है ‘BAT’

BAT का पूरा नाम ‘बॉर्डर एक्शन टीम’ है। ये पाकिस्तान के सैनिकों और आतंकियों की सीमा पर सक्रिय रहने वाली एक मिली-जुली टीम है। दरअसल, यह पाकिस्तान की स्पेशल फोर्स के लिए तैयार किया गया सैनिकों का एक ग्रुप है। हैरानी की बात ये है कि BAT में सैनिकों जैसी ट्रेनिंग पाए आतंकी भी हैं। इन्हें LoC में 1 से 3 किलोमीटर तक अंदर घुसकर हमला करने के लिए तैयार किया गया है। ‘बैट’ को स्पेशल सर्विस ग्रुप यानी एसएसजी ने तैयार किया है। यह पूरी प्लानिंग के साथ अटैक करती है।

Comments

Most Popular

To Top