Army

नहीं बाज आ रहा पाकिस्तान, दागे मोर्टार, महिला की मौत

संघर्ष विराम का फिर उल्लंघन

जम्मू। पाकिस्तान लगातार तकरीबन हर दिन गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन जारी रखे हुए है। इसी के चलते पाकिस्तान सैनिकों ने एक बार फिर राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में गोलीबारी कर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। दुश्मनों ने स्कूल तक को नहीं बख्शा। स्कूल की दीवारों पर गोलियों के निशान साफ़ देखे जा सकते हैं। पाकिस्तान की गोलीबारी में एक महिला की मौत हो गई।





पाकिस्तान ने बिना किसी उकसावे के बुधवार की देर रात नौशेरा सेक्टर की चौकियों तथा रिहायशी इलाकों को निशाना बनाया। पाकिस्तान सैनिकों ने छोटे तथा आधुनिक हथियारों का इस्तमेाल भी किया। गोलीबारी के दौरान पाक ने 82 एमएम तथा 120 एमएम के मोर्टार भी दागे। भारतीय सेना ने भी इस गोलीबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया। फिलहाल अभी गोलीबारी जारी है।

संघर्ष विराम का फिर उल्लंघन

पाकिस्तान सैनिकों ने नौशेरा सेक्टर में गोलीबारी कर संघर्ष विराम का फिर उल्लंघन किया

संघर्ष विराम का फिर उल्लंघन

पाकिस्तान सैनिकों ने नौशेरा सेक्टर में स्कूल को भी नहीं बख्शा

पाकिस्तान और उसके द्वारा पोषित आतंकवादियों की कायराना करतूत अब भारतीय सेना के धैर्य का बाँध तोड़ रही है।इसे इसी से समझा जा सकता है कि आमतौर पर सेना का बड़ा अफसर जल्दी-जल्दा सार्वजनिक रूप से प्रतिक्रया नहीं देता लेकिन वेस्टर्न कमांड के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टी. जनरल अभय कृष्णा ने कल कहा था, “मैं उनके परिवार को आश्वस्त करता हूँ कि ऐसा घिनौना और कायराना अपराध करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।”

सीमापार से गोलीबारी के चलते 17 परिवारों ने किए अपने घर खाली

जम्मू संभाग के राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में बुधवार की देर रात पाकिस्तान की ओर से की गई भारी गोलीबारी के बाद नियंत्रण रेखा से सटे गांव खाली होने लगे हैं। धीरे-धीरे ग्रामीण अपने घरों को छोड़ पलायन करने लगे हैं। जिला प्रशासन ने नौशेरा शहर में दो कैंप खोल दिए हैं ताकि ग्रामीण सुरक्षित स्थान पर पनाह ले सकें। अब तक सीमावर्ती इलाके से 17 परिवार अपने घरों को खाली कर सुरक्षित स्थानों पर जा चुके हैं।

सूत्रों के अनुसार सेना स्थिति पर नजर रखे हुए है। ग्रामीणों की जान माल की हिफाजत के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। भीषण गोलाबारी से उत्पन्न तनाव के मद्देनजर प्रशासन की ओर से नौशेरा में हायर स्कूल तथा हायर सेकेंडरी स्कूल में दो कैंप स्थापित किए गए हैं। यहां 17 परिवारों के 40 सदस्य विस्थापन कर पहुंचे हैं। राजौरी जिला प्रशासन ने एलओसी से सटे गांवों के लोगों को घरों से बाहर न निकलने को कहा है। साथ ही बच्चों तथा महिलाओं को खासकर सुरक्षित रखे जाने की हिदायत दी गई है।

Comments

Most Popular

To Top