Army

J&K में मानवाधिकार के दायरे में होगी सैन्य कार्रवाई

बिपिन-रावत

नई दिल्ली। भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि कश्मीर में मानवाधिकार का उल्लंघन नहीं होने दिया जाएगा। सेना मानव जीवन की रक्षा के लिए तत्पर है। उन्होंने कहा कि हमें कश्मीर की आम जनता की पूरी चिंता है और जल्द ही हालात काबू में कर लिए जाएंगे।





तेलंगाना के डुंडीगल में शनिवार को एयर फोर्स एकेडमी में पासिंग आउट परेड में अतिथि के रूप में शामिल बिपिन रावत ने कहा कि कश्मीर में युवाओं के बीच कुछ गलत सूचनाएं फैलाई जा रही हैं और कुछ लोग उन्हें भटकाने का कार्य कर रहे हैं। इसी के चलते वहां के युवक सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी करते हैं लेकिन मुझे उम्मीद है कि वह एक दिन जरुर समझेंगे कि उनके लिए क्या सही है और क्या गलत। सेना प्रमुख ने माना कि दक्षिण कश्मीर के कुछ हिस्सों में हालात खराब हैं।

सेना प्रमुख का ये बयान ऐसे समय के दौरान आया है जब जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की तरफ से लगातार पुलिस और सेना के जवानों पर हमला किया जा रहा है। दरअसल शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले के अचबल में घात लगाकर बैठे 15 आतंकवादियों ने जीप पर सवार पुलिस दल पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी। श्रीनगर से अचबल करीब 65 किलोमीटर दूर है। इस हमले में एसएचओ फिरोज अहमद डार समेत छह पुलिसवाले शहीद हो गए थे।

Comments

Most Popular

To Top