Army

शहीद कर्नल महादिक की पत्नी स्वाति बनीं सेना में अफसर

नई दिल्ली। वर्ष 2015 में जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद विरोधी अभियान के दौरान शहीद हुए सेना के कमांडो कर्नल संतोष महादिक की विधवा पत्नी स्वाति महादिक सेना में ऑफिसर बन गईं हैं।





पति के पदचिन्हों का अनुसरण करते हुए अफसर बनीं स्वाति ने इस मौके पर कहा कि ‘उनके पति का पहला प्यार उनकी वर्दी और यूनिट थी, तो मुझे इसे पहनना ही था।’चेन्नई के ऑफिसर ट्रेनिंग एकेडमी(OTA) में रहते हुए उन्होंने एक साल की कठिन ट्रेनिंग को पासिंग आउट परेड के साथ पूरा किया जिसके बाद वे आज लेफ्टिनेंट बन गईं।

 

32 वर्षीय स्वाति दो बच्चों की मां हैं स्वाति सर्विस सलेक्शन बोर्ड (एसएसबी) के सामने हाजिर हुईं। लिखित परीक्षा और साक्षात्कार क्लियर करने के बाद स्वाति ने आखिरकार वो मुकाम पा ही लिया जिसके लिए उन्होंने इतनी मेहनत की थी।

आतंकी हमले में शहीद हुए थे कर्नल महादिक 

गौरतलब है कि 17 नवंबर को कर्नल महादिक और उनके साथियों पर घात लगाकर हमला किया गया था। हमले के समय अपने साथियों के साथ महादिक नियंत्रण रेखा के समीप घुसपैठ करने वाले आतंकवादियों की छापामारी कर रहे थे। हमले में शहीद हुए महादिक को गणतंत्र दिवस के मौके पर शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था। महाराष्ट्र के रहने वाले संतोष 1998 में थलसेना में शामिल किए गए थे।

Comments

Most Popular

To Top