Army

सुरक्षा बलों ने की घुसपैठ नाकाम, 10 आतंकी ढेर, बुरहान का उत्तराधिकारी मारा गया

सबजार-भट्ट

श्रीनगर। कश्मीर में आज सेना को बड़ी कामयाबी मिली। उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा (LoC) से सटे बारामूला के रामपुर सेक्टर में सीमा पार से घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करते हुए सुरक्षाबलों ने 6 आतंकियों को मार गिराया है। वहीं दूसरी ओर सायमू-त्राल सेक्टर में जारी मुठभेड़ के दौरान सेना ने हिजबुल मुजाहिदीन के टॉप कमांडर सबजार बट्ट को मार गिराया। उस पर 10 लाख का इनाम था। यह वही सबजार है जिसे बुरहान वानी के मारे जाने के बाद हिजबुल ने कमांडर बनाया था। सबजार के साथ एक और आतंकी के मारे जाने की खबर है। उसकी पहचान नहीं हो सकी है। 21 साल का सबजार बट्ट चंडीगढ़ कालेज में इंजीनियरिंग का छात्र था। बुरहान की तरह सबजार सोशल मीडिया में ज्यादा एक्टिव नहीं था। सबजार लो प्रोफाइल था। उसे कमांडर बनाने के पीछे हिजबुल की ख़ास रणनीति रही होगी।





पिछले 24 घंटों के अंदर आतंकियों द्वारा घुसपैठ की यह दूसरी घटना है। इससे पहले पुलवामा जिले के त्राल इलाके में आतंकियों ने शुक्रवार रात करीब नौ बजे सेना के 42 राष्ट्रीय राइफल्स के एक गश्ती दल पर हमला किया था। जिसके बाद सेना ने वहां भी घेराबंदी कर रखी है। सूत्रों के अनुसार, हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर सबजर बट्ट सहित तीन आतंकवादी त्राल के सेमोह गांव में एक घर के भीतर छिपे हैं। इसके बाद सेना ने उस घर को घेर लिया। आज सुबह से आतंकियों तथा सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ जारी है।

इसी बीच मुठभेड़ का पता चलते ही यहां के स्थानीय लोग खासकर युवकों ने नारेबाजी कर प्रदर्शन शुरू कर दिया, जिससे कार्रवाई में बाधा पड़ने लगी। सुरक्षाबलों को स्थिति को काबू में करने के लिए प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस तथा पैलेट गन का इस्तेमाल करना पड़ा। इसमें दर्जन के करीब प्रदर्शनकारी घायल हो गए। घायलों को तुरंत पास के जिला अस्पताल इलाज के लिए ले जाया गया है।

उधर, पाकिस्तान सेना ने बैट हमले में मात खाने के कुछ घंटे के भीतर शनिवार तड़के उत्तरी कश्मीर में रामपुर सब सेक्टर में ऑटोमेटिक हथियारों से लैस आतंकियों को भारतीय सीमा में घुसपैठ कराने की कोशिश की। जवानों ने घुसपैठ की कोशिश नाकाम करते हुए चार आतंकियों को मार गिराया। आतंकियों के साथियों के आसपास छिपे होने की आशंका के मद्देनजर इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। इस बीच दो और आतंकियों के मारे जाने की खबर है।

  • रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता राजेश कालिया ने आज सुबह हुई घुसपैठ के प्रयास की जानकारी देते हुए बताया कि मारे गए आतंकियों के पास से बड़ी तादाद में हथियार और गोले-बारूद बरामद हुए हैं।

घाटी में सोशल मीडिया पर लगा बैन शुक्रवार को सरकार ने हटाया, शनिवार को फिर लगाया 

  • जम्मू-कश्मीर सरकार ने कश्मीर में पिछले एक महीने से सोशल मीडिया पर लगे प्रतिबंधों को शुक्रवार देर रात से हटा दिया था लेकिन आज फिर लगा दिया गया। सरकार ने 26 अप्रैल को सभी सोशल मीडिया और ऐप्लिकेशनों को प्रतिबंधित कर दिया था।
  • कश्मीर के गृह विभाग ने घाटी में हो रहे विरोध प्रदर्शनों को रोकने के लिए सभी सोशल मीडिया साइटों फेसबुक, वाट्सएप और ट्विटर समेत 22 सोशल मीडिया को प्रतिबंधित कर दिया था।
  • कश्मीर में कुछ राष्ट्र विरोधी एवं असमाजिक तत्व सोशल मीडिया के विभिन्न प्रारूपों में भड़काऊ सूचना प्रसारित करने के लिए दुरुपयोग करते हैं, जिसे रोकने के लिए यह फैसला लिया गया था।

Comments

Most Popular

To Top