Army

ले. जनरल राजवीर बने सेना चिकित्सा कोर के सेनानायक

लेफ्टिनेंट जनरल राजवीर सिंह

लखनऊ: लेफ्टिनेंट जनरल राजवीर सिंह ने 01 मई 2017 को सेना चिकित्सा कोर केन्द्र एवं कॉलेज के सेनानायक एवं एएमसी अभिलेख प्रमुख का पदभार संभाल लिया है। उन्होंने ले. जनरल एमडी वेंकटेश की जगह ली है, जो 30 अप्रैल 2017 को सेवानिवृत्त हुए हैं। पदभार संभालने के बाद लेफ्टिनेंट जनरल राजवीर सिंह ने सेना चिकित्सा कोर केन्द्र एवं कॉलेज के युद्ध स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की।





लेफ्टिनेंट जनरल राजवीर सिंह

ले. जनरल राजवीर सिंह ने सेना चिकित्सा कोर केन्द्र एवं कालेज के युद्ध स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित किया

ले. जनरल राजवीर सिंह

सेना चिकित्सा कोर केन्द्र एवं कालेज के युद्ध स्मारक पर ले. जनरल राजवीर सिंह

लेफ्टिनेंट जनरल राजवीर सिंह के बारे में

आर्म्ड फोर्सेस मेडिकल कॉलेज पुणे से स्नातक लेफ्टिनेंट जनरल राजवीर सिंह ने सेना में विभिन्न महत्वपूर्ण प्रशासनिक, स्टाफ एवं अनुदेशकीय पदों पर कार्य किया है। 03 मार्च 1980 को सेना चिकित्सा कोर में कमीशन प्राप्त लेफ्टिनेंट जनरल सिंह वर्तमान पद ग्रहण करने से पहले, नई दिल्ली स्थित रक्षा मंत्रालय के एकीकृत मुख्यालय में सेना चिकित्सा सेवा महानिदेशालय में चिकित्सा सेवाओं के अपर महानिदेशक, इंफार्मेशन सिस्टम, हेल्थ एवं प्रोफेशनल सर्विसेज के पद पर कार्यरत थे।

लेफ्टिनेंट जनरल राजवीर सिंह को सम्मान

  • वर्ष 2002 में पश्चिमी नौसेना कमान के एफओसी-इन-सी के प्रशंसा पत्र से सम्मानित किया गया।
  • 2008 और 2010 में दो बार थल सेनाध्यक्ष के प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जा चुका है।
  • विशिष्ट एवं सराहनीय सेवाओं के लिए वर्ष 2012 में ‘विशिष्ट सेवा मेडल’ से भी अलंकृत किया जा चुका है।

Comments

Most Popular

To Top