Army

फिर घुसपैठ की कोशिश, तीन आतंकी ढेर, एक जवान शहीद

indian army

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की ओर से लगातार घुसपैठ की कोशिश जारी है। यहां उड़ी और नौगाम सेक्टर में एक बार फिर घुसपैठ की कोशिश करने वाले तीन आतंकियों को सुरक्षा बलों ने ढेर कर दिया। इस गोलीबारी में सुरक्षा बल का एक जवान शहीद हो गया तथा दो जवान घायल हुए हैं। मुठभेड़ में शहीद हुए जवान की पहचान 4/1 GR के राइफ़लमैन तारा बहादुर रोका के रूप में हुई है। उधर, आईबी ने जम्मू-कश्मीर के कठुआ में बड़े आतंकी हमले का आशंका के चलते अलर्ट जारी किया है।





सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी द्वारा दिए गए एक बयान में बताया गया कि आतंकियों के साथ मुठभेड़ अभी भी जारी है। आतंकियों की ओर से घुसपैठ की ये ताजा घटना है। LoC से सटे उड़ी में पांच-छह आतंकियों ने एक साथ हमला बोल दिया जिसे सुरक्षा बल ने नाकाम करते हुए 3 आतंकी मार गिराए। अन्य आतंकियों की खोज की जा रही है। पिछले 24 घंटे में पाकिस्तान द्वारा घुसपैठ की ये दूसरी कोशिश है।

नौगाम में घुसपैठ

नौगाम में घुसपैठ की कोशिश में मारे गए आतंकियों के पास बरामद हथियार आदि

ब्रिगेडियर नीरज कुमार सोनी ने कहा कि मारे गए तीनों आतंकी किसी प्रशिक्षित कमांडों से कम नहीं थे। यह तीनों आत्मघाती थे और पास से मिले हथियार व दस्तावेज से मिले संकेतों के आधार पर कहा जा सकता है कि इनका मकसद भारतीय सीमा में दाखिल होने के बाद किसी बड़े सैन्य प्रतिष्ठान को निशाना बनाना था।

आतंकियों से मिले सामान में तीन एसाल्ट राइफल, एक UBGL, दो UBGL ग्रेनेड, 254 AK कारतूस, 14 AK मैगजीन, पांच हथगोले, एक वायर कटर, छह रेडियो सेट, तीन पिट्ठू बैग, तीन जीपीएस, तीन मोबाइल फोन, सिम कार्ड, पाकिस्तान में बनी दवाएं, सूखे मेवे, कपड़े, तीन वाकिंग स्टिक, डायरियां और कुछ आतंकी साहित्य व पेनड्राइव आदि बरामद किए गए हैं।

कश्मीर में घुसपैठ की कोशिश नाकाम

स्रोत : NorthernComd.IA

indian army

घुसपैठ की कोशिश करने वाले दो आतंकियों को भारतीय सेना ने ढेर कर दिया ये मुठभेड़ अभी भी जारी है

मंगलवार रात जम्मू कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा से सटे माछिल सेक्टर के पास सेना ने घुसपैठ की बड़ी साजिश को नाकाम करते हुए 4 आतंकियों को मार गिराया था। इन आतंकियों के पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद किए गए थे।

पत्थरबाजी में घायल हुए 12 जवान

बुधवार रात शोपियां में भी पत्थरबाजी के चलते सुरक्षा बल का वाहन पलट गया था, जिसके कारण CRPF के 12 जवान घायल हो गए थे। सीमा पर लगातार जारी घुसपैठ के बाद सभी सुरक्षा एजेंसियां सचेत हो गई हैं। इससे पहले भी कुपवाड़ा में नियंत्रण रेखा के पास सेना ने घुसपैठ की बड़ी कोशिश नाकाम की थी, जिसमें चार आतंकी मारे गए थे तथा भारी मात्र में गोला बारूद बरामद किया गया था।

Comments

Most Popular

To Top