Army

भारतीय थल सेना का दल पहुंचा करगिल युद्ध के नायक कैप्टन बत्रा के घर

कैप्टन विक्रम बत्रा के घर सैन्य दल

जम्मू। भारतीय सेना के 09 जवानों का एक दल हिमाचल में करगिल युद्ध के हीरो कैप्टन विक्रम बत्रा के घर पहुंचा। जवानों ने कैप्टन बत्रा के माता-पिता के प्रति सम्मान व्यक्त किया। रक्षा पीआरओ लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने बताया कि कैप्टन बत्रा के पिता एल बत्रा और मां कमल कांत बत्रा कैप्टन बत्रा के 13 जम्मू-कश्मीर रायफल्स के सैनिकों को देख कर भावुक हो गए।





लेफ्टिनेंट कर्नल आनंद ने कहा कि यह कैप्टन बत्रा के माता-पिता के लिए गौरवांन्वित पल था। कैप्टन बत्रा को मरणोपरांत परमवीर चक्र से नवाजा गया था।

बता दें कि 26 जुलाई, 1999 को भारतीय सेना ने पाकिस्तानी घुसपैठियों के कब्जे से अनेक पहाड़ियों को मुक्त कराया था जिनमें ‘प्वाइंट- 4875’ भी शामिल थी। करगिल युद्ध के समय अनेक जंग ऐसी थी जिन्होंने ऑपरेशन विजय को परिभाषित किया था और उनमें से एक था प्वाइंट- 4875 का युद्ध। इस प्वाइंट से दुश्मन श्रीनगर-लेह राजमार्ग पर सीधे नजर रख सकता था।

युद्ध के साल पूरे होने के अवसर पर भारतीय सैनिक उसी ऊंचाई पर जाकर करगिल विजय की याद को अपने जेहन में बसा लेना चाहते हैं। 13 जम्मू-कश्मीर राष्ट्रीय राइफल्स उत्तराखंड के माना से जम्मू-कश्मीर के करगिल तक चढ़ाई का आयोजन कर रही है। इसकी शुरात 06 जुलाई को हुई थी और यह सैन्य दल करगिल विजय दिवस के दिन करगिल पहुंच जाएगा। इस पूरे अभियान का नेतृत्व मेजर रित्विक सिंह कर रहे हैं।

Comments

Most Popular

To Top