Army

अमरनाथ हमला कोशिशों को पीछे धकेलने जैसा: सेना

लेफ्टिनेंट जनरल जेएस संधू

नई दिल्ली। भारतीय सेना ने अमरनाथ यात्रा हमले को सेना की कोशिशों को ‘पीछे धकेलने वाला कदम’ बताते हुए शनिवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर में स्थिति नियंत्रण में है और सेना आतंकवादियों के खिलाफ अभियान जारी रखेगी। चिनार कोर्प्स कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल जेएस संधू ने मीडिया से कहा, ‘अमरनाथ यात्रा हमला हमारी कोशिशों को पीछे धकेलने वाला कदम था, लेकिन हम आतंकवादियों के खिलाफ अपना अभियान जारी रखेंगे। हम स्थिति में सुधा करते रहेंगे।’





जेएस संधू ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है। सेना स्थिति के खराब या चिंताजनक होने को लेकर अत्याधिक चिंतित नहीं है। स्थिति नियंत्रण में रहेगी। उन्होंने साथ ही कहा कि घाटी के युवा ‘देश की सेवा के लिए तत्पर हैं।’ राज्य से सुरक्षा बलों में युवाओं की भारी संख्या में तैनाती से यह साबित होता है।

जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले में अपने हथियारों सहित लापता हुए जवान जहूर अहमद ठाकुर को लेकर संधू ने कहा कि उसके किसी आतंकवादी संगठन में शामिल होने की पुष्टि नहीं हुई है। संधू ने कहा कि हम उसकी तलाश कर रहे हैं।

जवान जहूर

सेना का जवान जहूर एके- 47 राइफल लेकर फरार है (फाइल फोटो)

छह जुलाई को टेरिटोरियल आर्मी की 173-बटालियन के जवान ठाकुर के गंतमुला इलाके से अपने शिविर से एक AK-47 राइफल सहित लापता होने की खबर मिली थी।

Comments

Most Popular

To Top