Army

मेजर गोगोई के सम्मानित होने के बावजूद FIR वापस नहीं होगी

मेजर लितुल गोगोई

जम्मू। 55 राष्ट्रीय राइफल्स के मेजर लितुल गोगोई पर टिप्पणी करते हुए कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक (आईजीपी) मुनीर अहमद खान ने मंगलवार को कहा कि एफआईआर को वापस नहीं लिया जायेगा, भले ही मेजर को सम्मानित किया गया हो।





मेजर गोगोई ने 9 अप्रैल को बडगाम जिले में पत्थरबाजों के खिलाफ ढाल के तौर पर फारूक अहमद डार नामक एक युवक को जीप के आगे बांधा था। सनद रहे कि कश्मीर में चुनाव के दौरान पत्थरबाजों से निपटने वाले मेजर को थल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कॉउंटर इंसरजेंसी ऑपरेशन के दौरान बेहतरीन प्रयास के लिए सम्मानित किया है। मेजर लितुल गोगोई को आर्मी चीफ कमेंडेशन कार्ड प्रदान किया गया है।

मुनीर अहमद खान

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक मुनीर अहमद खान

 

सेना की ओर से मामले की जांच के लिए कोर्ट आफ इन्क्वायरी का गठन किया गया था। इस कोर्ट द्वारा अब भी इस मामले की जांच की जा रही है। इस जांच के बीच ही मेजर लितुल गोगोई को मिले सम्मान के बाद सोशल मीडिया पर तमाम लोग मेजर की प्रशंसा करते दिख रहे हैं।

सोपोर में एक समारोह में आईजीपी मुनीर खान ने कहा कि मानव ढाल के मामले में एफआईआर दर्ज की गई है और इसकी जांच की जा रही है। उन्होंने आगे कहा कि जांच में जो कुछ भी सामने आता है वो एक अलग बात है लेकिन एफआईआर को वापस नहीं लिया जायेगा बेशक मेजर गोगोई को सम्मानित किया गया है।

Comments

Most Popular

To Top