Army

सीमा विवाद: छोटे युद्ध के हथियारों की खरीद को हरी झंडी

युद्धभ्यास करते भारतीय टैंक

नई दिल्‍ली। सिक्किम में चीन के साथ बढ़ते तनाव और कश्‍मीर में पाकिस्‍तान द्वारा जारी आतंकियों की लगातार घुसपैठ के बाद केंद्र सरकार ने अपनी सेना को और ज्यादा मजबूत बनाने का फैसला लिया है सरकार ने सेना को छोटे और गहन युद्ध के लिए हथियारों की आकस्मिक खरीद को मंजूरी दे दी है। इस मंजूरी के बाद सेना गोला-बारूद, हथियार और कई तरह के दूसरे सिस्‍टम भी खरीद सकेगी। इस खरीद के बाद सेना किसी भी पल युद्ध के लिए पूरी तरह से तैयार रहेगी।





डिप्टी चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ को दी गई जिम्मेदारी

सेना के लिए आकस्मिक हथियार खरीदने की जिम्मेदारी डिप्टी चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ को दी गई है, यानि सरकार के इस आदेश के बाद डिप्टी चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ सेना के लिए आकस्मिक खरीद के लिए अधिकृत हो गए हैं। यह खास इसलिए मन जा रहा है क्योंकि सरकार ने सिक्किम के डोकलाम में चीन के साथ एक माह से टकराव के बीच यह कदम उठाया है। इसके अलावा जम्‍मू कश्‍मीर में LoC पर भी पाकिस्‍तान के साथ लगातार तनाव बढ़ रहा है।

40 हज़ार करोड़ के हथियार खरीदेगी सेना

सेना के छोटे हथियार

सेना के छोटे हथियार (फाइल फोटो)

उप सेना प्रमुख गोला-बारूद के अलावा 10 तरह के वेपेन सिस्‍टम के स्‍पेयर पार्ट्स और दूसरे अहम उपकरणों को खरीदने की मंजूरी दे सकेंगे। रक्षा मंत्रालय के अधिकारिक सूत्रों के अनुसार, इस कड़ी में एक बड़े बदलाव के तहत सेना के वाइस चीफ के वित्तीय अधिकारों में बढ़ोतरी करते हुए उन्हें सीधे 40 हज़ार करोड़ के सैन्य हथियारों की खरीद के अधिकार दे दिए गए है।

40 दिन के युद्ध के लिए हर वक्त तैयार रहती है सेना 

सेना के पास फिलहाल करीब 46 तरह के महत्वपूर्ण हथियार हैं, जिसमें 10 तरह के हथियारों के कलपुर्जे है, जबकि 20 तरह के गोला बारूद और माइंस हैं। इसमें आर्टलरी और टैंक से जुड़ा गोला बारूद शामिल है। सेना हर समय किसी भी हालात में 40 दिन की लड़ाई की तैयारी रखती है। रक्षा सूत्रों के मुताबिक, सितंबर 2016 में हुई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से अब तक सेना ने करीब 12 हजार करोड़ के हथियार और बारूद की खरीदी कर चुकी है सूत्र बताते हैं कि इस संबंध में नोटिफिकेशन भी जारी किया गया है।

इससे पहले 31 मार्च, 2017 को सेना को आकस्मिक खरीद के लिए अधिकृत किया गया था। उस समय एक ऑडिट हुआ था जिसमें कई तरह की खामियां पाई गई थीं। सेना के पास करीब 46 तरह के अहम हथियार हैं और 20 तरह के गोला-बारूद है जिसमें आर्टलरी और टैंक से जुड़ा गोला-बारूद शामिल हैं।

Comments

Most Popular

To Top