Army

पाकिस्तान की हरकतों का मुंहतोड़ जवाब दे सेना: जेटली

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री अरुण जेटली और सेना प्रमुख जनरल बिपिन सिंह रावत ने बुधवार को श्रीनगर में सैन्य अधिकारियों के साथ बैठक की और घाटी के सुरक्षा हालात का जायजा लिया। बैठक में रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने एलओसी पर घुसपैठ रोकने के उपायों की सराहना की। बैठक के बाद जेटली ने कहा कि सेना सीमा पार से होने वाली हरकतों का जवाब पाकिस्तान को उसी के तरीके से दे और निर्दोष लोगों की सुरक्षा भी सुनिश्चित करे।





रक्षा मंत्री ने ये बात सेना प्रमुख और वरिष्ठ सैन्य कमांडर से मुलाकात के बाद कही। श्रीनगर में सेना के कैंप बदामी बाग में रक्षा मंत्री को सेना प्रमुख सहित वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों ने जम्मू-कश्मीर के मौजूदा हालात के बारे में जानकारी दी।रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने मौजूदा हालात में चुनौतियों का सामना करने वाले हर सैनिक के बलिदान, साहस, सत्यनिष्ठा और देशभक्ति की तारीफ की। साथ ही कहा कि पूरे देश को उनप र गर्व है।  जेटली ने सेना को दुश्मनों से लड़ते हुए निर्दोष लोगों की सुरक्षा का ध्यान रखने की बात भी कही। उन्होंने सेना के कमांडरों से कहा कि एलओसी पर सीमा पार से होने वाली नापाक हरकत का हमेशा माकूल जवाब देने के लिए तैयार रहें।

एक साल में 268 बार पाकिस्तान ने तोड़ा सीजफायर

पाकिस्तान लगातार सीमा पर युद्ध विराम के नियमों का उल्लंघन कर रहा है। कभी उसकी इस हरकत का शिकार सेना के जवान होते हैं तो कभी आम लोग होते रहे हैं। पाकिस्तान ने अप्रैल 2016 से मार्च 2017 तक 268 बार सीजफायर तोड़ा है। इस दौरान नौ जवान शहीद हुए हैं।

अप्रैल 2016 से दिसंबर 2016 के बीच पाकिस्तान ने 227 बार सीजफायर तोड़ा और इस दौरान आठ जवान हताहत हुए। जबकि, जनवरी 2017 से मार्च 2017 तक पाकिस्तान ने 41 बार सीजफायर तोड़ा है और इस दौरान एक जवान हताहत हुआ। पाकिस्तान ने सबसे ज्यादा अक्टूबर और नवंबर 2016 में सीजफायर तोड़ा था। इन दो महीनों में क्रमश: 78 और 88 बार पाकिस्तान ने सीजफायर तोड़ा और इस दौरान सात जवान हताहत हुए थे।

Comments

Most Popular

To Top