Army

चार हजार जवान नहीं ढूँढ़ पाए एक भी आतंकी

नई दिल्ली/श्रीनगर: सुरक्षाबलों का घाटी में आतंकवादियों को ढूंढने के लिए गुरुवार से अब तक का सबसे बड़ा तलाशी अभियान चलाया जा रहा है लेकिन सुरक्षाबलों की गिरफ्त में अभी तक एक भी आतंकी नहीं आया है। 20 गांवों में आतंकियों को तलाश कर रहे जवानों को सूचना मिली थी कि आतंकी संगठन लश्कर का कमांडर जुनैद भट्ट अपने पांच अन्य साथियों के साथ इन गांवों में छिपा है। लेकिन शुक्रवार शाम तक किसी भी आतंकी को सुरक्षाबल गिरफ्तार करने में नाकाम रहे हैं।





इन बीस गांवों को चिन्हित करने के बाद ही सुरक्षाबलों ने यहां तलाशी अभियान चलाने का फैसला लिया। उन्हें सूचना मिली थी कि इन्हीं गांवों में आतंकवादी छिपे हैं लेकिन अभी तक किसी भी आतंकवादी को ना तो मारा गया है और ना ही उसकी गिरफ्तारी की गई है। इतना ही नहीं अब तो यह भी खबर आ रही है कि जिन गांवों में सुरक्षाबल तलाशी अभियान चला रहे हैं वहां से आतंकी जुनैद और उसके साथी महिलाओं और बच्चों को अपनी ढाल बनाकर वहां से निकलने में कामयाब हो गए हैं।

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों में यहां बैंको पर भी हमला करने की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं। गुरुवार को जवानों की एक टुकड़ी पर हमला भी किया गया था इसमें एक स्थानीय व्यक्ति की मौत भी हुई थी।

30 लोग आतंकी संगठन में शामिल हुए: रिपोर्ट

घाटी में आतंकियों की संख्या बढ़ने की एक चौकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है। जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा जिलेवार तैयार की गई एक रिपोर्ट के मुताबिक घाटी में पिछले चार महीने में तीस स्थानीय लोग आतंकी संगठन में शामिल हुए हैं। पहले श्रीनगर और गंदेरबल में कोई आतंकी नहीं था लेकिन अब यहां 23 आतंकवादी एक्टिव हैं। पूरी घाटी में फिलहाल 24 आतंकवादी एक्टिव हैं।

Comments

Most Popular

To Top