Army

गोलाबारी में पाकिस्तान के 4 सैनिक नदी में गिरे, 6 साल की बच्ची की मौत

भारतीय सेना

श्रीनगर। पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर का उल्लंघन जारी है पाकिस्तान सेना ने जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पुंछ के बालाकोट और राजौरी के मंजाकोट में गोलाबारी में 6 वर्षीय बच्ची साजिदा कफील ने अपनी जान गंवा दी है। इससे पहले पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) में नियंत्रण रेखा पर हुई संघर्ष विराम उल्लंघन की घटना में भारतीय सैनिकों ने करारा जवाब दिया। भारतीय सेना की गोलीबारी में उनके चार जवान नदी में डूब गए।





नदी में गिरी पाकिस्तानी सेना की जीप

पाकिस्तानी सेना एलओसी पर बीजी सेक्टर में पिछले दो दिन से छोटे हथियार, ऑटोमैटिक्स और मोर्टार से बिना किसी उकसावे के अंधाधुंध फायरिंग कर दी, जिसका भारतीय सेना ने जोरदार तरीके से जवाब दिया। बता दें कि पाकिस्तान प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने रविवार को आरोप लगाया है कि नीलम घाटी में पाकिस्तान की सेना की जीप पर भारतीय सेना ने गोलाबारी कर 4 सैनिकों की हत्या कर दी थी। पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने बताया कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर PoK में मुजफ्फराबाद से 73 किलोमीटर की दूरी पर स्थित आठमुकाम में नीलम नदी के पास चल रहे वाहन को निशाना बनाया गया।

6 वर्षीय बच्ची की मौत

बता दें कि हाल ही में राजौरी के मंजाकोट इलाके में पाकिस्तान की ओर से बिना किसी उकसावे के की गई इस गोलीबारी में भारतीय सेना के जवान नांसलायक मोहम्मद नसीर शहीद हो गए पाकिस्तानी सेना ने छोटे ऑटोमेटिक हथियारों और मोर्टार से हमले किए। भारत की ओर से भी दोनों जगहों पर प्रभावी और मुंहतोड़ जवाब दिया गया। इस बीच, पाक सेना द्वारा जारी गोलाबारी में पुंछ के बालाकोट सेक्टर के धरोटी गांव में पांच वर्ष की बच्ची की मौत हो गई है।

पाकिस्तान सेना बालाकोट सेक्टर में काफी भारी गोलाबारी कर रही है। भारतीय सेना भी इस सेक्टर में पाक सेना को मुंह तोड़ जवाब दे रही है। वहीं सोमवार सुबह सात बजे के करीब पाक सेना ने एकाएक राजौरी के तरकुंडी व पुंछ के बालाकोट सेक्टर में भारी गोलाबारी शुरू कर दी। भारतीय सेना द्वारा भी पाक सेना को मुंह तोड़ जवाब दिया जा रहा है।

प्रशासन ने सभी स्कूल बंद करवाने के दिए आदेश

पाकिस्तानी गोलाबारी को देखते हुए जिला प्रशासन ने राजौरी सेक्टर के सीमा के साथ लगने वाले सभी सरकारी व निजी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद रखने का आदेश जारी कर दिया है, ताकि पाकिस्तान गोलाबारी में बच्चों को कोई नुकसान ना हो सके। क्योंकि पाकिस्तानी सेना द्वारा दागे जा रहे मोर्टार स्कूलों के आसपास आकर गिर रहे थे।

Comments

Most Popular

To Top