Army

ज्यादा मारक क्षमता वाली ‘धनुष-2’ तोप जल्द ही सेना में होगी शामिल

धनुष-2 मौजूदा तोप ‘धनुष’ से चार किलोमीटर ज्यादा दूरी तक मार करने में सक्षम होगी। धनुष की मारक क्षमता 38 किलोमीटर है। य़ानि धनुष 42 किलोमीटर के दायरे में मार करने में सक्षण होगी।

कानपुर: इंडियन आर्मी को जल्द ही ‘धनुष-2’ के रूप में एक शक्तिशाली तोप मिलने वाली है। यह धनुष का ही आधुनिक वर्जन होगा। सेना, आयुध निर्माणी बोर्ड व डायरेक्ट्रेट जनरल क्वालिटी एश्योरेंस ने मिलकर अब ‘धनुष-2’ के निर्माण पर काम शुरू कर दिया है। धनुष-2 मौजूदा तोप ‘धनुष’ से चार किलोमीटर ज्यादा दूरी तक मार करने में सक्षम होगी। धनुष की मारक क्षमता 38 किलोमीटर है। य़ानि धनुष 42 किलोमीटर के दायरे में मार करने में सक्षम होगी।





एक महीने पहले ही आयुध निर्माणी कानपुर द्वारा तैयार ‘धनुष-2’ तोप की बैरल को आंतरिक ट्रायल के लिए बालासोर (ओडिशा) भेजा गया था, जिसे चार दिन तक चले परीक्षण में सफलता मिली है। इसे जल्द ही सेना के परीक्षण के लिए भेजा जाएगा।

  • धनुष-1 की मारक क्षमता लगभग 38 किलोमीटर है।
  • अब सेना के पास 42 किलोमीटर दूरी तक मार करने वाली आधुनिक तोप होगी।
  • ‘धनुष-2’ 52 कैलिबर की तोप होगी, यह 45 कैलीबर वाली धनुष तोप से सात कैलिबर अधिक क्षमता वाली साबित होगी।
  • इसे ऑटोमैटिक मोड में संचालित किया जा सकता है।
  • रेट आफ फायर भी इसका जबरदस्त होगा। बाकी के फीचर्स धनुष के ही होंगे लेकिन सेना के लिए अचूक सिद्ध होगी।

414 तोप बनाने का ऑर्डर:

आयुध निर्माणी कानपुर को 414 तोप बनाने का आर्डर मिल चुका है। इसमें 114 गन की आपूर्ति तत्काल की जानी है। फिलहाल छह बैरल सेना को भेजी जा चुकी है, शेष का उत्पादन तेजी से चल रहा है। सेना की डिमांड के अनुसार अब नई तोप मैकेनिकली और इलेक्ट्रिकली रूप से अपग्रेड मॉडल होगी।

डिफेंस मटेरियल्स एंड स्टोर्स रिसर्च डेवलेपमेंट इस्टेब्लिसमेंट (डीएमएसआरडीई) और कानपुर के पनकी में स्थित एक फैक्ट्री को दो लाख एंटी माइंस बूट बनाने का आर्डर मिला है। यह बूट करीब 2.40 किलोग्राम वजन की होगा। अभी तक इसकी आपूर्ति मलेशिया और श्रीलंका से होती है लेकिन सेना को अब देसी तकनीक से बने बूट मिलेंगे।

Comments

Most Popular

To Top