Army

सेना देशवासियों का हौसला बनाए रखें: लेफ्टिनेंट जनरल

रानीखेत (अल्मोड़ा)। भारतीय सेना में पहली बार कुमाऊं रेजिमेंट मुख्यालय (केआरसी) में आयोजित पदक अलंकरण समारोह के मौके पर 55 सैन्य अधिकारियों, जवानों व यूनिटों को विशिष्ट सेवा व शौर्य पदक, प्रशस्ति पत्र और ट्रॉफी से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर कमांडिंग ऑफिसर इन चीफ मध्य कमान लेफ्टिनेंट जनरल बलवंत सिंह नेगी ने पदक विजेता सैन्य जवान-अधिकारियों व यूनिटों को बधाई दी।





लेफ्टिनेंट जनरल नेगी ने कहा कि सभी रैंक के सैन्यकर्मी देश और सेना का नाम रौशन करने के लिए और बेहतर करें। बीते वर्षों में मध्य कमान के अंतर्गत आने वाले सैन्य फॉर्मेशनों के कार्य उत्कृष्ट व सराहनीय रहे। उम्मीद है कि सैन्यकर्मी देशवासियों में उनके लिए कायम उम्मीदों व भरोसे को और मजबूत बनाएंगे।

इस अवसर पर विशिष्ट सैन्य परंपरा व राष्ट्रगान के साथ शुरू हुए कार्यक्रम में लेफ्टिनेंट जनरल नेगी ने चार युद्ध सेवा पदक तथा वीरता के लिए छह सेना पदक प्रदान किए। इनमें से एक सेना पदक मरणोपरांत दिए गए। विशिष्ट सेवा के लिए छह सेना पदक, एक वार टू विशिष्ट सेवा पदक, 12 विशिष्ट सेवा पदक, सैन्य यूनिटों को मध्य कमान के जीओसी-इन-सी के 6 यूनिट प्रशस्ति पत्र, 18 सूर्या ट्रॉफी, एक सर्वोत्तम जीवन रक्षक पदक और एक जीवन रक्षक मेडल भी प्रदान किए गए।

जीवन रक्षक पदक (मरणोपरांत) सिपाही वेदमित्रा चौधरी को दिया गया। यह सम्मान लेफ्टिनेंट जनरल नेगी ने वेदमित्रा की पत्नी बबीता देवी को प्रदान किया।

सेना पदक से नवाजे गए जवान और ऑफिसर्स

जम्मू-कश्मीर में विपरीत हालात में असाधारण वीरता एवं कर्तव्यपरायणता के लिए लेफ्टिनेंट कर्नल नितिन गुप्ता, मेजर कमल जांगिड़, मेजर अशोक तपाड़िया, मेजर शिविश तिवारी, मेजर विक्रांत पॉल को सेना पदक (गैलेंटरी) से नवाजा गया। राइफलमैन शिशिर मल (मरणोपरांत) को भी सेना पदक (गैलेंटरी) दिया गया जिसे उनकी पत्नी ने प्राप्त किया।

मध्य कमान की छह यूनिटों को सेवा कार्यकाल के दौरान प्रशंसनीय व उत्कृष्ट कार्यों के लिए यूनिट प्रशस्ति पत्र प्रदान किए गए। मध्य कमान की 17 सेवाएं उपलब्ध कराने वाली यूनिटों को संतोषजनक एवं उत्कृष्ट कार्यों के लिए सूर्या बेस्ट सर्विस प्रोवाइडर ट्रॉफी प्रदान की गईं।

Comments

Most Popular

To Top