Army

सर्जिकल स्ट्राइक का एक वर्ष, जवानों को सलाम करने उड़ी कैंप जाएंगी रक्षामंत्री

सर्जिकल स्ट्राइक

नई दिल्ली। पाकिस्तान में आतंकी कैंप पर भारतीय सेना द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक को एक साल पूरा हो गया है। रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण सेना प्रमुख बिपिन रावत के साथ कश्मीर दौरे पर होंगी। रक्षामंत्री उड़ी कैंप भी जाएंगी जहां पाकिस्तानी आतंकवादियों ने हमला किया था। जिसके बाद भारतीय सेना ने पाकिस्तान में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक की और आतंकियों के कई ठिकाने ध्वस्त किए थे





19 सितंबर, 2016 को उड़ी बेस कैंप पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया था। इस हमले में 19 जवान शहीद हो गए थे। हमले में मारे गए आतंकवादियों के पास से बरामद जीपीएस सेट और जिंदा पकड़े गए दो गाइड्स से खुलासा हो गया था कि यह एक आतंकवादी हमला था। आतंकवादियों का संबंध आतंकी गुट जैश-ए-मोहम्मद से था और वे पाकिस्तान के रास्ते उड़ी में दाखिल हुए थे।

पहली बार की गई थी सर्जिकल स्ट्राइक 

भारतीय सेना के द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक में करीब 50 आतंकी मारे गए थे। कई आतंकी कैंप पूरी तरह से तबाह भी हुए थे। ऐसा पहली बार हुआ था कि भारतीय सेना ने पाकिस्तानी कैंपों पर हमला किया और इसका एलान भी किया।

हाल ही में हुई थी दोबारा हमले की कोशिश

बता दें कि बीते रविवार को ही उड़ी में एक और आतंकी हमले की कोशिश हुई थी। इस कोशिश को सेना ने नाकाम कर दिया था। सुरक्षाबलों ने इस ऑपरेशन में चार आतंकियों को मार गिराया था।

Comments

Most Popular

To Top